Thursday, January 20, 2022

विषय

1984 Sikh Riots

हत्या, डकैती, लूटपाट… 1984 सिख नरसंहार में कॉन्ग्रेस के पूर्व MP सज्जन कुमार पर आरोप तय, 1994 में बंद कर दिया गया था मामला

1984 सिख नरसंहार के एक मामले में दिल्ली की एक अदालत ने पूर्व कॉन्ग्रेस नेता सज्जन कुमार के खिलाफ दंगेबाजी, हत्या और डकैती के आरोप तय किए हैं।

जिस आतंकवाद की शिकार हुई इंदिरा गाँधी, उन्हीं जड़ों को सींचने में क्यों लगी है कॉन्ग्रेस?

ऐसी कौन सी मजबूरी कॉन्ग्रेस के सामने आ गई कि कॉन्ग्रेस आतंकवाद की उन्हीं जड़ों को सींचने लगी जिसे इंदिरा हमेशा के लिए खत्म करना चाहती थीं।

दिल्ली कॉन्ग्रेस की टीम में सिख विरोधी दंगों के आरोपित जगदीश टाइटलर को जगह, सोनिया गाँधी ने किया नियुक्त

1984 के सिख विरोधी दंगों के आरोपित जगदीश टाइटलर को प्रदेश कॉन्ग्रेस कमिटी में स्थायी सदस्य के तौर पर जगह दी गई है। सोनिया गाँधी ने उनकी नियुक्ति की है।

‘VIP नहीं हो’ – 1984 में सिखों की हत्या के जिम्मेदार सज्जन कुमार की जमानत याचिका खारिज, कोर्ट का कड़ा कमेंट

सुप्रीम कोर्ट ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के दोषी सज्जन कुमार की जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा कि उनकी मेडिकल कंडीशन स्थिर है।

1984 सिख विरोधी दंगा पीड़ितों के लिए मोदी सरकार का पैकेज, मृतकों के आश्रितों को ₹3.50 लाख

केंद्र की मोदी सरकार ने 1984 के सिख दंगा पीड़ितों के लिए पुनर्वास पैकेज की घोषणा की है। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय ने लोकसभा में यह जानकारी दी।

जब दंगाइयों के सामने दीवार बन गए यशपाल शर्मा और चेतन चौहान: 1984 में ऐसे बचाई सिद्धू, योगराज जैसे सिख क्रिकेटरों की जान

इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद जब दंगाइयों ने क्रिकेट टीम के सिख खिलाड़ियों को निशाना बनाना चाहा, तो चेतन चौहान और यशपाल शर्मा आगे खड़े हो गए।

सिख सैनिकों को भड़काया, कश्मीर में अलगावाद का समर्थन: SFJ के खतरनाक इरादे, 36 साल पहले ऐसे ही ‘खोए’ थे 574 जवान

"SFJ भारतीय सेना में शामिल सिख सैनिकों को उकसाने के साथ-साथ कश्मीर के युवाओं को कट्टरपंथी बनाने और भारत के लिए कश्मीर के अलगाव को खुले तौर पर समर्थन देने की कोशिश कर रहा है।"

राजीव गाँधी के आदेश पर कॉन्ग्रेसियों ने किया था 1984 का सिख नरसंहार: पूर्व DGP का खुलासा और वीडियो की सच्चाई

इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद हुए 1984 सिख नरसंहार के बारे में राजीव गाँधी ने कहा था कि जब भी कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती थोड़ी हिलती है।

जब ट्रेन की सीट के नीचे छिप गए थे सिद्धू और सभी सिख खिलाड़ी… चेतन चौहान ने दंगाई भीड़ से बचाई थी जान

पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान की ऐसी कहानी, जब उन्होंने सिख दंगों के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू समेत सिख खिलाड़ियों को दंगाइयों से बचाया था।

कॉन्ग्रेस का सन्देश है कि जो गाँधी परिवार के खिलाफ बोलेगा उसे प्रताड़ित किया जाएगा: तजिंदर बग्गा

तजिंदर बग्गा ने पूछा कि अगर सिख नरसंहार में राजीव गाँधी का हाथ नहीं होता तो इसमें शामिल लोगों को मंत्रिपद देकर क्यों नवाजा जाता?

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,380FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe