Wednesday, July 24, 2024
102 कुल लेख

अर्पित त्रिपाठी

अवध से बाहर निकला यात्री...

राहुल गाँधी के लिए हिंदू ‘चरमपंथी’, नरेंद्र मोदी की ईमानदारी के विरोधी भी कायल, जेट विमान से आता था मायावती का सैंडल: जूलियन असांजे...

विकिलीक्स के खुलासों में दावा किया गया था कि राहुल गाँधी हिन्दुओं में धार्मिकता को इस्लामी जिहाद से बड़ा खतरा मानते थे।

न सप्लाई करने की क्षमता बढ़ाई, न सीवर ट्रीटमेंट प्लांट बनाए, न दिया बजट: दिल्ली के पानी संकट के लिए केजरीवाल सरकार ही जिम्मेदार,...

2022-23 में दिल्ली में पानी से सम्बन्धित सुविधाओं पर ₹6344 करोड़ के खर्चे की मंजूरी दी गई थी। इसकी तुलना में मात्र ₹3171 करोड़ ही जारी किए गए।

पेट्रोल-डीजल के बाद पानी-बस किराए की बारी, कर्नाटक में जनता पर बोझ खटाखट: कॉन्ग्रेस की ‘रेवड़ी’ से खजाना खाली, अब कमाई के लिए विदेशी...

कर्नाटक की कॉन्ग्रेस सरकार की रेवड़ी योजनाएँ राज्य को महँगी पड़ रही हैं। पेट्रोल-डीजल के बाद अब पानी के दाम और बसों के किराए बढ़ाने की योजना है।

‘हमारे इलाके में हार गई TMC, इसलिए पानी की आपूर्ति बंद की’: बंगाल के कुल्टी में जल संकट, ममता सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

आसनसोल के कुल्टी इलाके के लोगों ने आरोप लगाया है कि TMC ने इस इलाके में पानी नहीं दिया है क्योंकि यहाँ से भाजपा को वोट मिले थे।

इकलौती नहीं हैं कुलविंदर कौर, सिस्टम में भरे पड़े हैं आतंकवादियों-खालिस्तानियों के ‘हमदर्द’: लोकसभा चुनाव के नतीजे भी करते हैं तस्दीक, कौन करेगा व्यवस्था...

अलगाववादी अमृतपाल सिंह, सरबजीत सिंह और राशिद को पोस्टल बैलट के जरिए वोट मिले हैं। पोस्टल बैलट में अधिकांश वोट सरकारी कर्मचारियों के होते हैं।

दक्षिण भारत में भाजपा की कई मोर्चों पर जीत: तमिलनाडु में वोट प्रतिशत 300% बढ़ा, आंध्र प्रदेश में 10 गुना ज्यादा मत, तेलंगाना में...

भाजपा का दक्षिण भारत में वोट प्रतिशत बढ़ा है। उसका तमिलनाडु में वोट प्रतिशत तीन गुना हो गया है, आंध्र प्रदेश में 10 गुना से अधिक बढ़ोतरी हुई है।

लगातार तीसरी बार ट्रिपल डिजिट में नहीं पहुँच पाई कॉन्ग्रेस, फिर भी ‘राजपरिवार’ की खुशी किला फतह करने जैसी: नतीजों के बाद भी नहीं...

लोकसभा चुनाव 2024 में कॉन्ग्रेस को देश ने एक बार फिर नकार दिया है। उसे देशवासियों ने भाजपा के विकल्प के रूप में मौका नहीं दिया।

जहाँ भारत में सबसे पहले उगता है सूरज, वहाँ कैसे डूब गई कॉन्ग्रेस: कभी था गढ़-अब उम्मीदवार के पड़े लाले, अरुणाचल में फिर से...

भाजपा ने अरुणाचल प्रदेश में 60 में से 46 यानि एक तिहाई सीटें जीत ली हैं, उसका वोट प्रतिशत 54% रहा है। उसने 10 सीट निर्विरोध जीतीं थी।