अरुंधति रॉय, ममता बनर्जी और कॉन्ग्रेस के भरोसे पाकिस्तान: कश्मीर पर Pak सीनेटर का कबूलनामा

वीडियो में (17 मिनट 40 सेकंड पर) आप देख सकते हैं कि एंकर पूछता है कि कश्मीर में मुस्लिमों की समस्याएँ किस तरह से ख़त्म होंगी? इस सवाल के जवाब में हुसैन ने कहा कि...

आज जब दुनिया भर में पाकिस्तान की फजीहत हो रही है और भारत उसे अंतरराष्ट्रीय मंच पर अलग-थलग करने में लगा हुआ है, पाकिस्तान को आतंकियों और अलगाववादियों ने नहीं बल्कि भारत के कुछ बुद्धिजीवियों और नेताओं से ज्यादा उम्मीदें हैं। अनुच्छेद 370 के अहम प्रावधानों को ख़त्म करने के साथ ही जम्मू कश्मीर को मिला विशेषाधिकार भी नहीं रहा। राज्य को पुनर्गठित कर के इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया गया। लद्दाख विधायिका रहित केंद्र शासित प्रदेश होगा। पाकिस्तान ने इस निर्णय के ख़िलाफ़ चीन का दरवाजा खटखटाया लेकिन उसे अपेक्षित परिणाम नहीं मिले।

तालिबान ने भी पाकिस्तान को डाँट पिलाई। रूस ने भारत के निर्णय को संवैधानिक दायरे में रह कर लिया गया फैसला बताया। मालदीव और यूएई जैसे मुस्लिम देशों ने भी भारत का ही समर्थन किया। अब बौखलाए पाकिस्तान को अरुंधति रॉय, ममता बनर्जी और कॉन्ग्रेस पार्टी से उम्मीदें हैं। लेखिका अरुंधति रॉय अक्सर भारतीय सेना के ख़िलाफ़ बयान देती रहती हैं और कश्मीर पर भारतीय रुख के विपरीत बोलने का उनका पुराना इतिहास रहा है।

पाकिस्तानी टीवी चैनल पर बहस

कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जिस तरह से संसद में जम्मू कश्मीर को द्विपक्षीय मुद्दा साबित करने की कोशिश कर के भारतीय स्टैंड के ख़िलाफ़ बयान दिया, उससे पाकिस्तान को ज़रूर बल मिला होगा और इसीलिए अब वहाँ कॉन्ग्रेस को पाकिस्तान के प्रति सहानुभूति जताने वालों में देखा जा रहा है। पाकिस्तानी राजनेता और पत्रकार मुशाहिद हुसैन ने अरुंधति, कॉन्ग्रेस, कम्युनिष्ट पार्टी (वामदल) और ममता से समर्थन की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा कि ये सब आपके (पाकिस्तान के) साथ हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मुशाहिद ने कहा कि ये तीनों पाकिस्तान से सहानुभूति रखते हैं और पाकिस्तान के हित में वो मददगार साबित हो सकते हैं। वीडियो में (17 मिनट 40 सेकंड पर) आप देख सकते हैं कि एंकर पूछता है कि कश्मीर में मुस्लिमों की समस्याएँ किस तरह से ख़त्म होंगी? इस सवाल के जवाब में हुसैन ने कहा कि भारत एक बहुत बड़ा देश है और वहाँ सब कोई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समर्थन नहीं करता। हुसैन ने कहा कि पाकिस्तान को धैर्य रखना होगा क्योंकि अरुंधति, ममता और कॉन्ग्रेस नेताओं जैसे कुछ पाकिस्तान के प्रति सहानुभूति रखने वाले लोग हैं।

हुसैन ने दावा किया कि पूरा भारत मोदी के साथ नहीं है। इससे पहले तारिक़ पीरजादा नामक पाकिस्तानी विश्लेषक ने हिन्दुओं के नरसंहार की बात करते हुए कहा था कि कश्मीर में जाकर बसने वाले किसी भी हिन्दू को एक मिनट भी जिन्दा रहने का अधिकार नहीं है। टीवी बहस के दौरान पीरजादा ने ये बातें कही थीं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

अमानतुल्लाह ख़ान, जामिया इस्लामिया
प्रदर्शन के दौरान जहाँ हिंसक घटना हुई, वहाँ AAP विधायक अमानतुल्लाह ख़ान भी मौजूद थे। एक तरफ केजरीवाल ऐसी घटना को अस्वीकार्य बता रहे हैं, दूसरी तरफ उनके MLA पर हिंसक भीड़ की अगुवाई करने के आरोप लग रहे हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,970फैंसलाइक करें
26,848फॉलोवर्सफॉलो करें
128,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: