Saturday, October 23, 2021
Homeदेश-समाजनेशनल जूनियर चैंपियन रहे पहलवान की हत्या, ओलंपियन सुशील कुमार को तलाश रही दिल्ली...

नेशनल जूनियर चैंपियन रहे पहलवान की हत्या, ओलंपियन सुशील कुमार को तलाश रही दिल्ली पुलिस

सुशील कुमार ने दावा किया था कि इस मामले से उनके पहलवानों का कोई लेना-देना नहीं है और इसके लिए बाहर से आए लोग जिम्मेदार हैं।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम से 4 मई 2021 को मारपीट की खबर आई थी। संघर्ष में जख्मी हुए एक पहलवान की मौत हो गई है। दिल्ली पुलिस को इस मामले में ओलंपियन सुशील कुमार की तलाश है। वे फिलहाल गायब हैं और उनका लोकेशन ट्रेस करने का प्रयास जारी है। मारे गए पहलवान की पहचान 23 वर्षीय सागर कुमार के तौर पर हुई है।

इससे पहले बुधवार को सुशील कुमार ने दावा किया था कि इस मामले से उनके पहलवानों का कोई लेना-देना नहीं है और इसके लिए बाहर से आए लोग जिम्मेदार हैं। एडिशनल DCP (नॉर्थ-वेस्ट) डॉक्टर गुरइकबाल सिंह सिद्धू ने बताया कि दिल्ली पुलिस जब सुशील कुमार के घर पहुँची तो वे वहाँ मौजूद नहीं थे, जिसके बाद से उनकी तलाश की जा रही है। कई पहलवान इस झड़प में घायल हुए थे।

इस मामले में 24 साल के प्रिंस दलाल को गिरफ्तार किया गया है। वह हरियाणा के झज्जर का रहने वाला है। छत्रसाल स्टेडियम में हुई झड़प के दौरान फायरिंग भी हुई थी। दलाल को डबल बैरेल लोडेड बंदूक के साथ दबोचा गया। मामले के एक अन्य आरोपित सोनू महल के बारे में पता चला है कि वो गैंगस्टर काला जठेड़ी का करीबी है। वह इससे पहले भी हत्या और डकैती के मामलों में जेल जा चुका है।

सिद्धू के मुताबिक पुलिस को पता चला है कि सुशील कुमार, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्‍य लोगों के बीच स्‍टेडियम के पार्किंग क्षेत्र में झगड़ा हुआ था। मॉडल टाउन पुलिस थाने में FIR दर्ज की गई है। FSL (फॉरेंसिक साइंस लैब) रोहिणी के विशेषज्ञों ने घटनास्थल से फोरेंसिक सबूत भी जुटाए हैं।

आरोपितों की तलाश के लिए कई पुलिस टीमें गठित की गई हैं। इस मामले से जुड़े तकनीकी सबूत भी जुटाए गए हैं। मृतक सागर जूनियर नेशनल चैंपियनशिप विजेता था। उसके पिता दिल्ली पुलिस में हेड कॉन्स्टेबल हैं। PCR कॉल के आधार पर दर्ज की गई FIR में इस घटना के लिए 2 बार के ओलंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार और उनके लोगों को आरोपित बनाया गया है।

बताया जा रहा है कि ये झड़प कई घंटों तक चली थी। सागर और उसके दोस्त सुशील कुमार से जुड़े ही एक घर में रहा करते थे, जहाँ से उन्हें कुछ दिनों पहले खाली करने को कहा गया था। PCR कॉल करने वाले ने रात के 2 बजे पुलिस को सूचना दी थी कि उसने दो लोगों को पिस्टल फायरिंग करते देखा है।

सुशील कुमार ने लंदन में हुए 2012 ओलंपिक खेल में सिल्वर मेडल जीता था। उससे पहले बीजिंग ओलंपिक में वे कांस्य पदक जीतने में कामयाब रहे थे। इस घटना को लेकर हुए खुलासों की मानें तो सुशील कुमार के साथ 5 गाड़ियों में सवार होकर लारेंस बिश्नोई व काला जठेड़ी गिरोह के दर्जन भर से अधिक बदमाश स्टेडियम पहुँचे थे, जहाँ उन्होंने वहाँ पहले से मौजूद पहलवानों को पीटा और गोलीबारी भी की।

इसमें कई पहलवान घायल हुए और रोहतक के बखेता गाँव निवासी सागर धनखड़ की मौत हो गई। पुलिस ने शुरुआती जाँच में संपत्ति विवाद का एंगल भी मिला है। संपत्ति विवाद को सुलझाने के लिए ही ये लोग वहाँ बातचीत करने पहुँचे थे। प्रिंस दलाल से पूछताछ में और खुलासे होने की संभावना है। दिल्ली पुलिस ने FIR में हत्या की धाराएँ लगाई हैं। पहलवानों और गैंगस्टर्स का ये नेटवर्क कैसे बना, इस पर जाँच जारी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

परमवीर सूबेदार जोगिंदर सिंह: जो बिना हथियार 200 चीनी सैनिकों से लड़े… पापा से प्यार इतना कि बलिदान पर बेटी का भी निधन

15 साल की उम्र में ब्रिटिश इंडियन आर्मी को ज्वॉइन कर लिया था सूबेदार जोगिंदर सिंह ने और सिख रेजीमेंट की पहली बटालियन का हिस्सा बन गए थे।

आर्यन को गिरफ्तार करने वाले NCB अधिकारी की छवि खराब करने को बॉलीवुड वेबसाइट चला रहे भ्रामक खबर, पत्नी ने Koimoi को लताड़ा

एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर वानखेड़े के खिलाफ बॉलीवुड वेबसाइट कोईमोई ने भ्रामक खबर छापी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,988FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe