Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजगरबा में बजवाया इस्लामी गाना, हिंदू छात्रों ने जताई आपत्ति तो लोहे की रॉड...

गरबा में बजवाया इस्लामी गाना, हिंदू छात्रों ने जताई आपत्ति तो लोहे की रॉड और पत्थर से हमला: गुजरात के कॉलेज में विवाद

हिंदू छात्रों ने गरबा में इस्लामी गाने बजाने पर आपत्ति जताई। इससे नाराज आरोपितों ने पहले उन्हें धमकी दी और फिर उन पर हमला कर दिया।

गुजरात के एक कॉलेज में आयोजित गरबा के दौरान विवाद को लेकर हिंदू छात्रों पर हमला किया गया। छह छात्र घायल हो गए। घटना वडोदरा के सावली स्थित बीके पटेल आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज का है।

हमले का आरोप अमीन गुलाब नबी, निजामी मोईन नूर मोहम्मद, फिरोज भाई और हनीफ पर है। हमले के लिए लोहे की रॉड और पत्थरों का प्रयोग किया गया। विवाद गरबा में DJ पर इस्लामी गाना बजाने से शुरू हुआ। पुलिस ने चारों आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है। घटना शनिवार (1 अक्टूबर 2022) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीके पटेल आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज में शनिवार को गरबे का आयोजन किया गया था। इसमें 100-150 छात्र भाग ले रहे थे। ब्रेक में आरोपितों ने DJ पर इस्लामी गाने बजाने की माँग की।

बताया जा रहा है कि DJ वाले ने उनके दबाव में इस्लामी गाने बजाने शुरू कर दिए। इस पर अन्य छात्रों ने आपत्ति जताई। उनका कहना था कि नवरात्रि के अवसर पर गरबे में इस प्रकार के गाने कॉलेज परिसर में उचित नहीं है। इसी आरोपित नाराज हो गए। उन्होंने न सिर्फ विरोध कर रहे हिन्दू छात्रों को गंदी-गंदी गालियाँ दीं, बल्कि उनको देख लेने की धमकी भी दे डाली। उस समय कॉलेज के प्रिंसिपल और अन्य स्टॉफ ने आकर बीच-बचाव किया।

गरबा खत्म होने के बाद घर लौट रहे BA अंतिम वर्ष के छात्र विश्वजीत सिंह को अमीन गुलाब नबी, निज़ामी मोईन नूर मोहम्मद, फ़िरोज़ भाई और हनीफ़ ने रोक लिया। विश्वजीत के साथ 5 अन्य छात्र भी मौजूद थे, जिनके नाम युवराज वाघेला, हरपाल जाधव, योगेश, ऋतिक सिंह और घनशयाम सिंह हैं। अमीन, नूर मोहम्मद, फ़िरोज़ और हनीफ़ के हाथों में पत्थर और लोहे की रॉड थीं। उन्होंने सभी 6 हिन्दू छात्रों पर हमला कर दिया।

घटना के बाद हमलावर फरार हो गए। मामले की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई गई है। सभी हमलावर सावली के ही रहने वाले हैं। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -