Monday, July 22, 2024
Homeराजनीति'अब नौकरी के साथ-साथ छोकरी भी खोजूँ क्या': CM भूपेश बघेल ने मजाक में...

‘अब नौकरी के साथ-साथ छोकरी भी खोजूँ क्या’: CM भूपेश बघेल ने मजाक में उड़ाया बेरोजगारी का सवाल, जन्मदिन पर ‘बाबा’ के चरण में झुके

सीएम बघेल ने सुरगुजा संभाल के सभी जिलों में शासकीय बीएड कॉलेज खोले जाने की घोषणा की। सीएम बघेल ने बताया कि प्रदेश में 377 अंग्रेजी माध्यम के 'स्वामी आत्मानंद स्कूल' हैं।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार (22 अगस्त, 2023) को सरगुजा का दौरा किया। ये दौरा इसीलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि सरगुजा वहाँ के राजपरिवार से आने वाले TS सिंहदेव का इलाका है, जिन्हें हाल ही में उप-मुख्यमंत्री भी बनाया गया है। सिंहदेव CM पद के भी दावेदार रहे हैं। आज छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का जन्मदिन भी है। मुख्यमंत्री ने केक काटा और टीएस सिंहदेव के पाँव छुए। लेकिन, जब एक छात्र ने नौकरी को लेकर सवाल पूछा तो राज्य के मुखिया ने इसे मजाक में उड़ा दिया।

एक युवक ने सीएम भूपेश बघेल से सवाल किया कि प्रदेश में एग्रीकल्चर और फिशरी के पदों पर भर्तियाँ नहीं निकल रही हैं, इस कारण नौकरी नहीं लग पा रही है। साथ ही उसने ये भी कहा कि नौकरी न लगने के कारण उसकी शादी भी नहीं हो पा रही है। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुस्कुराते हुए पूछा कि अब नौकरी के साथ-साथ छोकरी भी खोजूँ क्या? साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि इन पदों पर जल्द ही भर्तियाँ निकाली जाएँगी। सीएम बघेल ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़’ कार्यक्रम में युवाओं से चर्चा कर रहे थे।

कार्यक्रम में पहुँचे जलोधर ग्वाल ने छत्तीसगढ़ी भाषा में अपनी कविता सुनाई। उन्होंने इस कविता के सहारे किसानों द्वारा लगातार अनाज उगाए जाने और उनके मेहनत करने के साथ-साथ नशा का त्याग करने का भी सन्देश दिया। कई छात्रों ने भी इस दौरान अलग-अलग विषय पर कविताएँ सुनाईं। सीएम बघेल ने सुरगुजा संभाल के सभी जिलों में शासकीय बीएड कॉलेज खोले जाने की घोषणा की। सीएम बघेल ने बताया कि प्रदेश में 377 अंग्रेजी माध्यम के ‘स्वामी आत्मानंद स्कूल’ हैं।

छत्तीसगढ़ में हाल ही में भाजपा ने गोबर घोटाले का भी मामला सामने आया था। इस साल वहाँ चुनाव भी होने हैं। इससे पहले कॉन्ग्रेस पार्टी को झटका भी लगा है। लगभग 120 कॉन्ग्रेस के नेता भाजपा में जाकर शामिल हो गए हैं। कुछ दिनों पहले ही 50 से भी अधिक कार्यकर्ताओं ने भाजपा का दामन थामा था। पार्टी अंदरूनी कलह से भी जूझ रही है। भाजपा ने आरोप लगाया है कि सीएम बघेल के हालिया कार्यक्रम में रटा-रटाया स्क्रिप्ट ही दोहराया गया और पहले ही तय हो गया था कि कौन क्या बोलेगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -