Monday, November 29, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीययह अँधकार पर प्रकाश की जीत का त्यौहार: ट्रम्प ने White House में मनाई...

यह अँधकार पर प्रकाश की जीत का त्यौहार: ट्रम्प ने White House में मनाई दिवाली, हिन्दुओं को दी बधाई

ट्रम्प प्रतिवर्ष दिवाली से जुड़े कार्यक्रमों में हिस्सा लेते रहे हैं। राष्ट्रपति चुने जाने से पहले आयोजित एक दिवाली कार्यक्रम में उन्होंने हिन्दुओं को भरोसा दिलाया था कि वो वाइट हाउस में हिन्दुओं के सबसे बड़े मित्र साबित होंगे।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने हिन्दू, जैन, सिख और बौद्ध समुदायों को दिवाली की बधाई देते हुए कहा कि ये त्यौहार अमेरिका में धार्मिक स्वतंत्रता का एक जीता-जागता उदाहरण है। ट्रम्प ने कहा कि प्रकाश का ये त्यौहार पूरे अमेरिका में मनाया जाता है और इससे पता चलता है कि धार्मिक स्वतंत्रता अमेरिका के मूल सिद्धांतों में से एक है। डोनाल्ड ट्रम्प ने ओवल ऑफिस में दिवाली मनायई और दीप जलाए। अमेरिकी राष्ट्रपति के इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोग भी पहुँचे। इस कार्यक्रम से मीडिया को दूर रखा गया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि उनकी सरकार अमेरिका के संविधान के मूल सिद्धांतों के अनुसार सभी धर्मों को अपने त्यौहार को अपनी आस्था और विश्वास से मनाने की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने ख़ुद और अपनी पत्नी मेलेनिया की तरफ़ से लोगों को दिवाली की बधाई देते हुए कहा कि प्रकाश के इस त्यौहार को आप पूरे उत्साह और उमंग के साथ मनाएँ। ट्रम्प ने कहा कि प्रकाश की अँधकार के ऊपर जीत ही इस त्यौहार के मूल में है और इसके लिए वो न सिर्फ़ अमेरिका बल्कि पूरे विश्व के हिन्दुओं, सिखों, जैनों और बौद्धों को शुभकामनाएँ देते हैं।

ट्रम्प ने दिवाली के बारे में आगे कहा कि ये ज्ञान की अज्ञानता के ऊपर और अच्छाई की बुराई के ऊपर जीत का त्यौहार है। वाइट हाउस की तरफ़ से जारी किए गए बयान में ट्रम्प ने कहा कि इस त्यौहार के दौरान लोग दिये जलाते हैं और परिवार एवं सगे-सम्बन्धियों के साथ धार्मिक आयोजनों में हिस्सा लेते है। उन्होंने कहा कि लोग रंग-बिरंगे प्रकाश की व्यवस्था करते हैं और पूजा करते हैं। भारत में दिवाली का त्यौहार रविवार (अक्टूबर 27, 2019) को मनाया जाएगा।

अमेरिका के राष्ट्रपति प्रतिवर्ष दिवाली से जुड़े कार्यक्रमों में हिस्सा लेते रहे हैं। राष्ट्रपति चुने जाने से पहले आयोजित एक दिवाली कार्यक्रम में उन्होंने हिन्दुओं को भरोसा दिलाया था कि वो वाइट हाउस में हिन्दुओं के सबसे बड़े मित्र साबित होंगे। हाल ही में जब प्रधानमंत्री मोदी के सम्मान में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम आयोजित किया गया था, तब ट्रम्प ने उसमें मुख्य अतिथि के रूप में भाग लिया था। इस दौरान 60,000 लोगों के समक्ष दोनों नेताओं ने अपने सम्बोधन में एक-दूसरे की प्रशंसा करते हुए अमेरिका और भारत के रिश्तों की महत्ता पर बात की थी।

इधर दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास में भी दिवाली के अवसर पर रंगारंग कार्यक्रम देखने को मिला। पारम्परिक वस्त्रों में महिलाओं ने दूतावास के परिसर में नृत्य किया। इस दौरान अमेरिकी महिलाएँ नेहा कक्कर के गए ‘दिलबर-दिलबर’ गाने पर जम कर थिरकीं। इस गाने में नोरा फ़तेहि ने नृत्य किया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान के मंत्री का स्वागत कर रहे थे कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, तभी इमरान ने जड़ दिया एक मुक्का: बाद में कहा – ये मेरे आशीर्वाद...

राजस्थान में एक अजोबोग़रीब वाकया हुआ, जब मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता भँवर सिंह भाटी को एक युवक ने मुक्का जड़ दिया।

‘मीलॉर्ड्स, आलोचक ट्रोल्स नहीं होते’: भारत के मुख्य न्यायाधीश के नाम एक बिना नाम और बिना चेहरा वाले ट्रोल का पत्र

हमें ट्रोल्स ही क्यों कहा जाता है, आलोचक क्यों नहीं? ऐसा इसलिए, क्योंकि हम उन लोगों की आलोचना करते हैं जो अपनी आलोचना पसंद नहीं करते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,346FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe