Friday, August 6, 2021

विषय

आईएएस

‘मेरे साथ जाहिल गाँव वाले की तरह बात मत करो’: गाँधी होते तो त्रिपुरा के DM साहब से क्या कहते?

कानून लागू करवाना सरकारी अधिकारी की जिम्मेदारी है। पर उसे कैसे लागू करवाना है, इस बात पर अधिकारियों के विवेक और धैर्य की परीक्षा होती है।

तलाक के बाद अब राज्य भी बदलने का मूड, टीना डाबी के शौहर अतहर खान ने लगाई तबादले की अर्जी

अतहर खान ने डेप्यूटेशन के लिए जम्मू कश्मीर जाने के लिए आवेदन किया है। ख़बरों की मानें तो उनका यह आवेदन फ़िलहाल गृह मंत्रालय में लंबित...

IAS से नेता बने शाह फैसल का पॉलिटिक्स डेढ़ साल में ही बंद, शेहला रशीद ने भी छोड़ दिया था साथ

आईएएस अधिकारी से नेता बने शाह फैसल ने राजनीति से तौबा कर ली है। जम्मू-कश्मीर में उनकी सियासी दुकान करीब डेढ़ साल ही चली।

9वीं सदी के चोल राजाओं से IAS अधिकारी ने ली प्रेरणा, 2020 में बदल दी पानी को तरस रहे एक जिले की सूरत

पुदुचेरी का कराईकल जिला गंभीर जल संकट से घिरा था। लोग खेती छोड़ रहे थे। घर छोड़कर जाने को मजबूर थे। एक बाल्टी पानी के लिए मीलों चलना पड़ता था। लेकिन, एक अधिकारी ने पारंपरिक तरीकों से बदल दिए हालात।

पूर्व IAS ऑफिसर को 5 साल की कैद: रखता था अवैध विदेशी हथियार, जमा की थी अकूत संपत्ति

IAS अहलूवालिया के घर से एक कारबाइन समेत 5 बंदूक, एक विदेशी राइफल व 328 कारतूस बरामद हुए थे। उसके पास दिल्ली, ग्वालियर और चंडीगढ़ के पॉश इलाकों में कई संपत्ति और एक वातानुकूलित सिनेमा घर भी था।

‘मुझे सिर्फ चाकू चलाना आता है इसलिए… बम बनाना सिखा दो, तो उससे लोगों को मारूँगा’

पाक मूल के अवैसी चौधरी ने कहा कि वो लोगों के ऊपर चाकू से हमला करने वाला है, क्योंकि उसे सिर्फ चाकू चलाना ही आता है। लेकिन यदि वो (अंडरकवर एजेंट) उसे बम बनाने का तरीका सिखा देंगे, तो वो बमबारी करके भी हमला कर सकता है।

फैजल! कब खून खौलेगा रे तेरा?

फैजल! सेना और कश्मीर पुलिस के जवानों की मौत के वक्त तू गांज़ा मार के कहां पड़ा था रे फैजल? कब खून खौलेगा रे तेरा?

‘IAS फ़ैसल का इस्तीफ़ा विश्वास की कमी का संकेत’

फ़ैसल के इस्तीफ़ा देने के बाद से ऐसी अटकलें लगाई जा रहीं हैं कि वो उमर अब्दुल्ला की नैशनल कॉन्फ्रेंस पार्टी से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,169FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe