Sunday, June 26, 2022

विषय

26 जनवरी

काशी विश्वनाथ से लेकर माँ वैष्णो देवी और बद्रीनाथ धाम तक: गणतंत्र दिवस परेड की झाँकियों में खास

स्वतंत्र भारत आज अपना 73वाँ गणतंत्र दिवस की खुशिया मना रहा है। राजपथ पर विराट भारत की तस्वीर देखने को मिल रही है।

दीप सिद्धू: दोपहर से पहले कोर्ट ने दी जमानत, दोपहर बाद क्राइम ब्रांच ने फिर किया गिरफ्तार

कोर्ट ने लाल किले पर व दिल्ली के अंदर हुई हिंसा के मामले में मुख्य आरोपित दीप सिद्धू को दिल्ली की अदालत ने जमानत दी थी लेकिन...

दिल्ली पुलिस ने जारी की 26 जनवरी की हिंसा में शामिल 12 उपद्रवियों की तस्वीरें, 1000 से ज्यादा वीडियो से हो रही है तलाश

राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन हुए उत्पात को लेकर दिल्ली पुलिस ने हिंसा करने वाले 12 उपद्रवियों की तस्वीरें जारी की हैं।

गाँव-गाँव घुमाई जाएगी पुरस्कृत राम मंदिर की झाँकी, होगी पुष्प वर्षा: सीएम योगी ने दिया निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि झाँकी जहाँ से भी गुजरेगी, लोग गर्व का अनुभव करते हुए इसका स्वागत करेंगे और इस दौरान पुष्पवर्षा भी की जाएगी।

लाल किले की दीवारों पर खुलेआम पेशाब किया ‘किसान’ दंगाइयों ने: देखें Video

वीडियो में दंगाइयों के एक समूह को लाल किले की दीवारों पर पेशाब करते हुए देखा गया था। वीडियो बनाते हुए एक दंगाई कहता है कि, "हम मोदी के मुँह में पेशाब करेंगे।"

ट्रैक्टर रैली ने महिलाओं को रौंदा: 2 की मौत, 5 की हालत नाजुक- बहुत ही खौफनाक है Video

पंजाब के अमृतसर में किसानों के समर्थन में निकली जा रही रैली में अचानक से एक ट्रैक्टर ड्राइवर ने अपना नियंत्रण खो दिया और कई महिलाओं को रौंद दिया।

किसान नहीं बल्कि पुलिस हुई थी हिंसक: दिग्विजय सिंह ने दिल्ली पुलिस को ही ठहराया दंगों का दोषी

कॉन्ग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि दिल्ली में किसान उग्र नहीं हुए थे बल्कि दिल्ली पुलिस उग्र हुई थी।

घायल पुलिसकर्मियों ने बयान किया हिंसा का आँखों देखा मंजर: लाल किला, ITO, नांगलोई समेत कई जगहों पर थी तैनाती

"कई हिंसक लोग अचानक लाल किला पहुँच गए। नशे में धुत किसान या वे जो भी थे, उन्होंने हम पर अचानक तलवार, लाठी-डंडों और अन्य हथियारों से हमला कर दिया।"

लाल किले के भीतर दंगाइयों का आंतक: चकनाचूर हुए काउंटर पर लगे शीशे, उखाड़ दिए गए रेलिंग व बैनर

लाल किले में घुसी भीड़ ने उपद्रव के दौरान न केवल टिकट काउंटर को पूरी तरह फोड़ा। उन्होंने इसके साथ लगे बोर्डों को भी निकाल कर फेंक दिया। वहीं एसी और रेलिंग को उखाड़कर भी नीचे कर दिया गया है।

लौंडा नाच को जीवनदान देने वाले रामचंद्र मांझी, डायन प्रथा के खिलाफ लड़ रही छुटनी देवी: दोनों को पद्मश्री सम्मान

गणतंत्र दिवस के अवसर पर 7 को पद्म विभूषण, 10 को पद्म भूषण और 102 को पद्मश्री पुरस्कार। इन्हीं में दो नाम रामचंद्र मांझी और छुटनी देवी के हैं।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,523FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe