Saturday, November 26, 2022

विषय

Jhatka Halal Debate

‘हिन्दुओं पर क्यों थोपा जा रहा हलाल? Haldiram’s जैसी कंपनी भी सर्टिफिकेट लेने को मजबूर’: ‘हलाल फ्री दिवाली’ का आह्वान, हिन्दू संगठनों का प्रदर्शन

#Halal_Free_Diwali (हलाल फ्री दिवाली) ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। आरोप है कि हलाल उत्पादों का सहारा लेकर करोड़ों रुपए जुटाए जा रहे हैं।

जानवर को कैसे करते हैं हलाल, काटने से पहले बेहोश करना इस्लाम में क्यों नहीं कबूल: जानिए सब कुछ

हलाल खाद्य बाजार वर्तमान में वैश्विक खाद्य उद्योग का 16% है। वहीं निकट भविष्य में हलाल खाद्य उत्पादन में वैश्विक व्यापार का 20% तक वृद्धि की उम्मीद है।

भारत में भी ‘हलाल’ से क्यों हारे झटका? हिन्दुओं से छिनता है रोजगार, सिखों में वर्जित: जानिए इससे लड़ने के लिए क्या कर सकते...

हलाल अर्थव्यवस्था अब केवल मांस तक ही सीमित नहीं है। फार्मास्युटिकल, पर्सनल केयर प्रॉडक्ट, सौंदर्य प्रसाधन और यहाँ तक ​​कि आटा, सभी अब हलाल प्रमाणन के साथ आते हैं।

हलाल सर्टिफिकेट भी तुष्टिकरण की पैदाइश: जो काम सरकारी, उसमें मजहबी मुहर की घुसपैठ क्यों?

हमें हलाल सर्टिफिकेट की जरूरत क्यों है? और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि मजहब के अलावा इस प्रमाणन के पीछे क्या औचित्य है?

कर्नाटक में हलाल के विरोध ने पकड़ा जोर, बेंगलुरु में ‘केवल हिंदू रेस्तरां में खाएँ’ का बैनर: बीजेपी नेता ने बताया था- इकोनॉमिक जिहाद

कर्नाटक में हलाल मीट को लेकर बवाल बढ़ता जा रहा है। हिंदू संगठनों ने मुस्लिमों के हलाल मीट का बहिष्कार करने की अपील की है।

तजिंदर बग्गा ने दिया देश को पहला झटका बिरयानी ब्रांड: 6 माह में दिल्ली में खुलेंगी ‘Kulhad Biryani’ की कई दुकान

भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने आज भारतीय बाजार में पहले झटका बिरयानी ब्रांड 'कुल्हड़ बिरयानी' की शरुआत की है।

भारतीय टीम के क्रिकेटरों को बीफ-पोर्क खाने की इजाजत नहीं, मिलेगा ‘हलाल मांस’: रिपोर्ट में दावा – स्वास्थ्य और फिटनेस के लिए नई डायट

भारतीय क्रिकेट टीम के डायटरी प्लान के मुताबिक, उन्हें किसी भी रूप में पोर्क या बीफ खाने में नहीं दिया जाएगा। साथ ही जो भी मांस दिए जाएँगे, वो 'हलाल' होंगे।

यूरोपीय देश ग्रीस ने जानवरों को हलाल करने पर लगाई रोक, प्रक्रिया को बताया ‘अमानवीय’

यूरोपीय देश ग्रीस की सर्वोच्च प्रशासनिक अदालत ने हलाल को अमानवीय बताते हुए सरकार को इसे रोकने का आदेश दिया है।

देहरादून के वेल्हम स्कूल पर FIR, हिंदू बच्चों को हलाल खाने के लिए मजबूर करने का था आरोप

देहरादून के एक लोकल अखबार में प्रकाशित वेल्हम बॉयज स्कूल के टेंडर नोटिस को लेकर बजरंग दल ने FIR दर्ज करवाई है।

‘हिंदू बच्चों पर थोप रहे इस्लामी तरीके से कटा माँस’: देहरादून का वेल्हम स्कूल हलाल मीट के टेंडर पर फँसा

स्कूल का कहना है कि वो हलाल और झटका दोनों मीट देते हैं। हालाँकि जब इसके प्रमाण माँगे गए तो स्कूल कोई दस्तावेज नहीं दिखा पाया।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,641FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe