Friday, July 10, 2020
383 कुल लेख

अनुपम कुमार सिंह

चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

वैज्ञानिक को प्रताड़ित किया, कर्मचारियों से अभद्रता: जून 2018 के पत्र से सामने आया CARA सीईओ दीपक कुमार का नया चेहरा

ICMR के एक वैज्ञानिक के पत्र से पता चला है कि ईसाईयों के साथ साँठगाँठ वाला रंगीनमिजाज CARA सीईओ दीपक कुमार कर्मचारियों को प्रताड़ित करता था।

कोरोना के दौरान भारत से अनाथ बच्चों को इटली, माल्टा, जॉर्डन भेजा गया: संस्था के CEO दीपक और मिशनरियों का गिरोह इसके पीछे

दीपक कुमार ने CEO रहते CARA में ईसाई महिलाओं की सत्ता स्थापित कर दी थी, जिनके इशारों पर बच्चों को गोद लेने-देने का खेल चलता था। अब हटाए गए।

माँ और जाति की गाली देकर मुस्लिमों ने धारदार हथियारों से किया घायल: बेगूसराय में महादलितों का आरोप

पुलिस की ही गाड़ी में घायल महादलितों को अस्पताल पहुँचाया गया। शंकर पासवान का कहना है कि मुस्लिम बहुल इलाक़े में उनके बाल-बच्चे कैसे जिएँगे?

ईद का बकरों की मौत से कोई लेनादेना नहीं, हम पशु हिंसा के विरोध में: PETA से एक्सक्लूसिव बातचीत

PETA ने अपने कैम्पेन्स कोऑर्डिनेटर राधिका सूर्यवंशी को हमारे सवालों का जवाब देने के लिए अधिकृत किया। पढ़िए लखनऊ होर्डिंग विवाद पर पूरी बातचीत।

CARA को बनाया ईसाई मिशनरियों का अड्डा, विदेश भेजे बच्चे: दीपक कुमार को स्मृति ईरानी ने दिखाया बाहर का रास्ता

CARA सीईओ रहते दीपक कुमार ने बच्चों के एडॉप्शन प्रक्रिया में धाँधली की। ईसाई मिशनरियों से साँठगाँठ कर अपने लोगों की नियुक्तियाँ की।

उनकी ही संतानें थी कौरव और पांडव: जानिए कौन हैं कृष्ण द्वैपायन, जिनका जन्मदिन बन गया ‘गुरु पूर्णिमा’

वो कौरवों और पांडवों के पितामह थे। महाभारत में उनकी ही संतानों ने युद्ध किया। वो भीष्म के भाई थे। कृष्ण द्वैपायन ने ही वेदों का विभाजन किया। जानिए कौन थे वो?

बहन! मैंने राखी का वायदा पूरा किया पर Pak का अंतिम टैंक नहीं उड़ा सका: ‘परमवीर’ अब्दुल हमीद

पंजाब की वो महिला, जिसने अमर बलिदानी अब्दुल हमीद को बाँधी थी राखी और नहीं ली कोई भेंट। जानिए कैसे पाकिस्तान युद्ध में हमीद ने पूरा किया वायदा।

भीम की भलाई से मीम सुलगे: J&K के डोमिसाइल पर इस्लामी प्रोपेगेंडा, अरबी मीडिया ने कहा- मुस्लिम डरे हुए हैं

जम्मू-कश्मीर में दलितों को अधिकार न वहॉं की पारिवारिक सियासी पार्टियों को पच रहा और न अरबी मीडिया को हजम हो रहा। मुसलमानों को 'डेमोग्राफिक चेंज' के नाम पर बरगलाया जा रहा।

हमसे जुड़ें

237,463FansLike
63,336FollowersFollow
272,000SubscribersSubscribe