Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यरनआउट विवाद के बाद स्टीव स्मिथ की माँ को गालियाँ बक रहे इंग्लैंड के...

रनआउट विवाद के बाद स्टीव स्मिथ की माँ को गालियाँ बक रहे इंग्लैंड के फैंस: ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने परिवार की सुरक्षा बढ़ाने की माँग की, PM ऋषि सुनक भी बिफरे

दरअसल, जॉनी बेयरस्टो के रन आउट होने के बाद इंग्लैंड के फैंस काफी नाराज थे। ऑस्ट्रेलियाई टीम जब डग आउट पर वापस लौट रही थी, तब...

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज सीरीज खेली जा रही है। जॉनी बेयरस्टो के रन आउट के चलते सीरीज का दूसरा मैच काफी विवादास्पद रहा। इसको लेकर कई तरह की बातें हो रहीं हैं। लेकिन इंग्लैंड के फैंस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों और सपोर्ट स्टॉफ की फैमिली को टारगेट कर रहे हैं। इसको लेकर लेकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों ने अपने परिवार की सुरक्षा बढ़ाने की माँग की है। 

दरअसल, जॉनी बेयरस्टो के रन आउट होने के बाद इंग्लैंड के फैंस काफी नाराज थे। ऑस्ट्रेलियाई टीम जब डग आउट पर वापस लौट रही थी, तब मेलबर्न क्रिकेट क्लब (MCC) के कुछ सदस्यों ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा और डेविड वार्नर के साथ तीखी बहस की थी। इसको लेकर एमसीसी ने अपने सदस्यों को सस्पेंड भी कर दिया था। लेकिन बात बिगड़ती जा रही थी। 

इंग्लैंड के फैंस ने स्टीव स्मिथ को भला-बुरा कहने के साथ ही उनकी माँ को गालियाँ देना शुरू कर दिया। इससे दुःखी होकर स्टीव स्मिथ की माँ को बीच मैच में ही ग्राउंड छोड़कर जाना पड़ा। यही नहीं, इंग्लैंड के फैंस की स्लेजिंग के चलते सपोर्ट स्टाफ के एक व्यक्ति का 11 वर्षीय बेटा रोता हुआ दिखाई था। हालाँकि बाद में ऑस्ट्रेलियाई टीम के प्लेयर्स ने उसे संभालते हुए शांत करा दिया था।

इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों की जमकर आलोचना हो रही है। फैंस से लेकर मीडिया तक ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम को खेल भावना का ध्यान रखने की बात कर रहा है। यहाँ तक कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने भी ऑस्ट्रेलिया की आलोचना की है। सुनक के एक प्रवक्ता ने आधिकारिक बयान में कहा था, “प्रधानमंत्री सुनक इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स की बात से सहमत हैं। ऑस्ट्रेलिया ने जिस तरह से मैच जीता हम उस तरह से जीतना नहीं चाहते।”

चूँकि, अब मामला हद से आगे निकल चुका है। एक तो इंग्लैंड एशेज सीरीज में 2-0 से पीछे है। वहीं, दूसरी ओर बेयरस्टो का रन आउट विवाद ने आग में घी डालने का काम किया है। इसलिए इंग्लैंड के फैंस गुस्से में है। इसके चलते ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर अपने परिवार की सुरक्षा बढ़ाने की माँग कर रहे हैं।

क्या है मामला

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच सम्मान की लड़ाई कहे जाने वाली एशेज सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया। मैच में इंग्लैंड क्रिकेट टीम 371 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही थी। पाँचवें दिन 52वें ओवर में गेंदबाजी करने आए कैमरून ग्रीन की बाउंसर को बाउंसर को छोड़ने के बाद जॉनी बेयरस्टो क्रीज से बाहर निकल गए। उन्होंने यह ध्यान नहीं दिया कि गेंद डेड हुई है या नहीं। 

फिर क्या था, विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने मौके का फायदा उठाते हुए उन्हें रन आउट कर दिया। ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स खुशी से झूमते हुए रन आउट की अपील कर रहे थे। मामला थर्ड अंपायर के पास पहुँचा और जॉनी बेयरस्टो नियम के तहत आउट करार दिए गए। लेकिन इंग्लैंड के फैंस को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों का इस तरह से आउट करना नागवार गुजरा। इसलिए वे लगातार उनका विरोध कर रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

वामपंथी सरकार ने चलवाई गोली, मारे गए 13 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता: जानें क्यों ममता बनर्जी मना रहीं ‘शहीद दिवस’, TMC ने हाईजैक किया कॉन्ग्रेस का...

कभी शहीद दिवस कार्यक्रम कॉन्ग्रेस मनाती थी, लेकिन ममता बनर्जी ने कॉन्ग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद युवा कॉन्ग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की हत्या को अपने नाम के साथ जोड़ लिया और उसका इस्तेमाल कम्युनिष्टों की जड़ काटने में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -