Wednesday, July 24, 2024
Homeराजनीति3.20 km लंबा 'कर्तव्य पथ', 19 एकड़ में सरोवर, 4 लाख वर्ग मीटर हरियाली:...

3.20 km लंबा ‘कर्तव्य पथ’, 19 एकड़ में सरोवर, 4 लाख वर्ग मीटर हरियाली: ‘सेन्ट्रल विस्टा’ से बदला नजारा, सभी राज्यों के भोजन और उत्पाद भी बिकेंगे

करीब 3.20 किलोमीटर लंबे कर्तव्य पथ के बगल में करीब 19 एकड़ में सरोवर बना है। इसे पुनर्विकसित कर और भव्यता दी गई है। खूबसूरती और सहूलियत के लिए इस पर 16 पुल भी बनाए गए हैं। इसके अलावा यहाँ झरने भी विकसित किए गए हैं।

‘सेंट्रल विस्टा’ प्रोजेक्ट के एक हिस्से का काम लगभग पूरा हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज गुरुवार (8 सितंबर 2022) को शाम 7 बजे कर्तव्य पथ का उद्घाटन और इंडिया गेट पर नेताजी सुभाषचंद्र बोस की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों के मौजूद रहने की संभावना है।

ग्रेनाइट से बनी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की यह प्रतिमा 28 फुट ऊँची है। इसका कुल वजन 65 मीट्रिक टन है। बता दें कि 23 जनवरी को पराक्रम दिवस पर प्रधानमंत्री ने नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया था। अब वहाँ इस प्रतिमा का अनावरण किया जाएगा।

राजपथ का ही नाम बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ किया गया है। यह इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन को जोड़ता है। इस सड़क के दोनों तरफ लॉन को विकसित किया गया है। हरियाली के साथ-साथ पैदल चलने वालों के लिये 15.5 किलोमीटर लंबा लाल ग्रेनाइट पत्थरों से बना पैदल पथ इसकी खूबसूरती में चार चाँद लगाता है।

गौरतलब है कि देश की स्वतंत्रता से पहले राजपथ को किंग्स वे और जनपथ को क्वींस वे के नाम से जाना जाता था। आजादी के बाद क्वींस वे का नाम बदलकर जनपथ और किंग्स वे का नाम बदलकर राजपथ कर दिया गया था। अब इसे बदलकर कर्तव्य पथ कर दिया गया है।

करीब 3.20 किलोमीटर लंबे कर्तव्य पथ के बगल में करीब 19 एकड़ में सरोवर बना है। इसे पुनर्विकसित कर और भव्यता दी गई है। खूबसूरती और सहूलियत के लिए इस पर 16 पुल भी बनाए गए हैं। इसके अलावा यहाँ झरने भी विकसित किए गए हैं।

इसके साथ इस मार्ग के दोनों तरफ स्टॉल लगाने की व्यवस्था की गई है। यहाँ CPWD ने 5 वेडिंग जोन बनाए हैं और हर जोन के लिए 40 वेंडर तय किए गए हैं। यहाँ देश भर के विभिन्न राज्यों के पसंदीदा खाने से लेकर स्थानीय उत्पाद मिलेंगे।

यहाँ पार्किंग स्थल विकसित करने के साथ-साथ पैदल यात्रियों के लिए नए अंडरपास बनाए गए हैं। यहाँ 1,126 गाड़ियाँ पार्क की जा सकेंगी। वहीं, इंडिया गेट के पास पार्किंग में 35 बसें खड़ी हो सकेंगी। पूरे क्षेत्र में करीब 3.90 लाख वर्गमीटर में फैली हरियाली भी दर्शनीय है। शाम ढलने के बाद रौशनी में यहाँ का नजारा अद्भुत लगता है।

बता दें कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत भारत की नई संसद और उसके आसपास के इलाके के पुर्नविकास से संबंधित परियोजना को कहा गया है। इस प्रोजेक्ट में तमाम तरह की सुविधाओं और मॉर्डन इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जा रहा है। संसद भवन से लेकर इंडिया गेट का पूरा इलाका पुनर्विकसित करने के साथ-साथ नया संसद भवन, प्रधानमंत्री आवास, प्रधानमंत्री कार्यालय और केंद्रीय सचिवालय बनाया जा रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -