Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजहथकड़ी में मनीष कश्यप की तस्वीर, गिरफ़्तारी वाला ट्वीट: बिहार पुलिस ने झूठ बता...

हथकड़ी में मनीष कश्यप की तस्वीर, गिरफ़्तारी वाला ट्वीट: बिहार पुलिस ने झूठ बता कर दर्ज की एक और FIR, YouTuber बोले – वो फर्जी हैंडल

हालाँकि, अब 'Mksonofbihar' यूजरनेम वाले हैंडल से दावा किया गया है कि जिस हैंडल से ट्वीट किया गया वो मनीष कश्यप का नहीं है।

YouTuber मनीष कश्यप पर एक और FIR दर्ज हो गया है। बिहार पुलिस ने इसकी जानकारी दी है। आइए, पूरे मामले को समझाते हैं। दरअसल, ‘@ManishKashyap43’ यूजरनेम वाले ट्विटर हैंडल ‘मनीष कश्यप (सन ऑफ बिहार)’ से एक तस्वीर ट्वीट की गई, जिसमें मनीष कश्यप के हाथ में हथकड़ी दिख रही है। इस तस्वीर के साथ गिरफ़्तारी का दावा किया गया है। इस दावे को बिहार पुलिस ने सिरे से नकार दिया है। अर्थात, ‘सच तक न्यूज़’ के संस्थापक की गिरफ़्तारी नहीं हुई है।

उक्त हैंडल से ये तस्वीर जारी करते हुए लिखा गया था, “मुझे ख़ुशी है कि अपने बिहार वासियों के लिए मैं जेल जा रहा हूँ। रात्रि के 8 बजे के करीब मुझे गिरफ्तार किया गया। बिहार की जनता देख रही है कि कैसे अन्याय के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले को जबरन दबाया जाता है। मैं न रुका था, न रुकूँगा। वापस आऊँगा जल्द ही। जय हिंद।” ये भी बता दें कि अब इस ट्विटर हैंडल को डिलीट कर लिया गया है। यानी, अब ये ट्विटर पर है ही नहीं। फेसबुक पर भी मनीष कश्यप ने कहा है कि वो हैंडल फर्जी है।

बिहार पुलिस ने इस ट्वीट में किए गए दावे का खंडन करते हुए जानकारी दी, “तमिलनाडु में बिहार के कामकाजी लोगों के लिये असत्य/भ्रामक वीडियो प्रसारित करने के प्रकरण में अभियुक्त मनीष कश्यप के द्वारा नए ट्विटर हैंडल पर अपनी गिरफ्तारी की फोटो पोस्ट की गई, जो पूर्णतः असत्य तथा भ्रामक है। इस भ्रामक पोस्ट के लिए पुनः प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।” हालाँकि, अब ‘Mksonofbihar’ यूजरनेम वाले हैंडल से दावा किया गया है कि जिस हैंडल से ट्वीट किया गया वो मनीष कश्यप का नहीं है।

मनीष कश्यप जब गिरफ्तार हुआ ही नहीं तो हाथ में हथकड़ी वाली तस्वीर आखिर किसकी है, अगर मनीष कश्यप की ही है तो कब की है? इस सवाल का जवाब बिहार पुलिस ने ही दे दिया। राज्य की पुलिस ने रविवार (12 मार्च 2023) को आधिकारिक बयान जारी किया। इसके अनुसार मनीष कश्यप (@ManishKashyap43 यूजरनेम वाले ट्विटर हैंडल) ने अपनी गिरफ्तारी की जो तस्वीर अपलोड की है, वो 4 साल पुरानी है। बिहार पुलिस के अनुसार पटना की कोतवाली थाने की पुलिस ने उसे 5 फरवरी 2019 को गिरफ्तार किया था।

‘Manish Kasyap Son Of Bihar’ नामक ट्विटर हैंडल द्वारा ये भी कहा गया है कि मनीष कश्यप का असली ट्विटर हैंडल यही है और ‘@ManishKashyap43’ वाला फर्जी था। इस हैंडल से मनीष कश्यप के हवाले से दावा किया गया कि उनके ऊपर ‘फर्जी केस’ करने के लिए फेक हैंडल बना कर अफवाह फैलाई गई।

‘@ManishKashyap43’ यूजरनेम वाले ट्विटर हैंडल को अगर फिलहाल देखना चाहें तो वो नीचे लगी इमेज जैसा दिखता है। उसमें सिर्फ एक ट्वीट है – उसके प्रोफाइल पिक का। हथकड़ी वाली तस्वीर गायब है।

मनीष कश्यप के हथकड़ी की तस्वीर लगाने वाले ट्विटर हैंडल @ManishKashyap43 का ट्विटर वॉल

आपको बता दें कि तमिलनाडु में बिहारियों के खिलाफ हिंसा के दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हुई कई वीडियो/तस्वीरों को बिहारी पुलिस और तमिलनाडु पुलिस ने फेक पाया है, और इस मामले में एक अभियुक्त मनीष कश्यप भी हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -