Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजसीमा हैदर ने लगाया 'जय श्री राम' का नारा, बेटे फरहान ने हाथ जोड़...

सीमा हैदर ने लगाया ‘जय श्री राम’ का नारा, बेटे फरहान ने हाथ जोड़ पढ़ी हनुमान चालीसा: कहा- जाना चाहती हूँ अयोध्या और मथुरा

सीमा ने हमें बताया कि कानूनी कार्रवाई और भागदौड़ के चलते वो कहीं बाहर नहीं निकल पा रही हैं। उन्होंने खुद को भगवान राम का भक्त बताया और सचिन के साथ अयोध्या घूमने की इच्छा जताई। सीमा हैदर ने बताया कि वो अभी तक मथुरा में भगवान कृष्ण का भी दर्शन नहीं कर पाई हैं।

पाकिस्तान से आई सीमा हैदर सुर्खियों में बनी हुई है। शुरुआत में तमाम लोगों ने उनके जासूस होने की आशंका जताई थी। हालाँकि, पुलिस की जाँच में अभी तक ऐसी कोई बात निकलकर सामने नहीं आई है। चार बच्चों की माँ इस महिला का सामाजिक और घरेलू ताना-बाना जानने के लिए ऑपइंडिया की टीम नोएडा के रबूपुरा पहुँची। बातचीत के दौरान सीमा हैदर के बेटे फरहान उर्फ राज ने हनुमान चालीसा सुनाई। वहीं, सीमा ने ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाए।

जब ऑपइंडिया की टीम सीमा की ससुराल पहुँची तो पहले से ही कई लोग घर के बाहर खड़े थे। वो सीमा से मिलना चाह रहे थे, लेकिन घरवालों की ओर से उन्हें मिलने की अनुमति नहीं दी गई। सीमा की ससुराल रबूपुरा कस्बे में एक गली के अंदर है। घरवालों के कहने पर जब हम अंदर पहुँचे, तब सीमा हैदर पड़ोस की कुछ महिलाओं से बात कर रही थीं। हम लोगों को देखकर सीमा ने सिर पर पल्लू कर लिया। वो पूरी तरह से भारतीय परिधान में थीं। इसके साथ ही उन्होंने दोनों हाथ जोड़कर ‘नमस्ते’ से हमारा अभिवादन किया।

इसी दौरान घर के अंदर से सचिन भी आ गए। सीमा हैदर हमें चारपाई पर बैठाकर वो खड़ी रहीं। हमने जब उन्हें बैठने के लिए कहा वो वो अतिथि के सम्मान की बात कहते हुए जमीन पर बैठने लगीं। कई बार कहने के बाद सीमा ने कुर्सी ली। इस दौरान सचिन ने बताया कि भारत आने से पहले उन्होंने नेपाल के एक मंदिर में सीमा से हिन्दू विधि-विधान के अनुसार शादी कर ली है।

बेटे ने सुनाई हनुमान चालीसा तो सीमा ने कहा जय श्रीराम

हम सचिन और सीमा से बात कर ही रहे थे कि अचानक खेलते हुए उनका बेटा फरहान आ गया। फरहान ने हमें नमस्ते किया। सीमा ने बताया कि वो अपने बेटे फरहान को हनुमान चालीसा याद करा रही हैं। उन्होंने फरहान से हनुमान चालीसा सुनाने के लिए भी कहा। फरहान ने हनुमान चालीसा सुनाने से पहले बाकायदा पूजा करने के अंदाज में हाथ जोड़े।

चालीसा के पाठ में फिलहाल कुछ शब्द आगे-पीछे रहे, जिसे फरहान ने जल्द ही सुधार लेने की बात कही। अपने बेटे को हनुमान चालीसा का पाठ करते देख कर सीमा हैदर काफी खुश थीं। पाठ के बाद सीमा ने ‘जय श्रीराम’ का उद्घोष भी किया। दरअसल, भारत आने के बाद सीमा हैदर ने अपने बेटे फरहान हैदर का नाम बदल दिया है। फरहान अब राज के नाम से जाने जाते हैं।

पति सचिन के साथ अयोध्या दर्शन की इच्छा

सीमा ने हमें बताया कि कानूनी कार्रवाई और भागदौड़ के चलते वो कहीं बाहर नहीं निकल पा रही हैं। उन्होंने खुद को भगवान राम का भक्त बताया और सचिन के साथ अयोध्या घूमने की इच्छा जताई। सीमा हैदर ने बताया कि वो अभी तक मथुरा में भगवान कृष्ण का भी दर्शन नहीं कर पाई हैं। गिरफ्तारी के समय उन्हें मथुरा मार्ग से पुलिस ने पकड़ लिया था। सचिन ने सीमा की इच्छा का सम्मान करते हुए उन्हें जल्द ही देश के तमाम धर्मस्थलों के दर्शन करवाने का भरोसा दिया।

हमसे बातचीत के दौरान सीमा हैदर ने यह भी कहा कि भारत आने के लिए वह पिछले एक साल से कोशिश कर रही थीं, लेकिन कोई-न-कोई अड़चन आ जाती थी। सीमा ने हमसे नेपाल की सीमा से भारत में इंट्री का अनुभव साझा करते हुए बताया कि वहाँ किसी भी प्रकार की कोई रोक-टोक नहीं थी। सीमा हैदर ने पाकिस्तान में हिन्दुओं के हालात और वहाँ कट्टरपंथियों द्वारा भारत के खिलाफ चलाए जा रहे प्रोपोगेंडा का भी जिक्र किया। इन बातों को हम अपनी अगली खबर में बताएँगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -