Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजअयोध्या जा रही 'आस्था स्पेशल' ट्रेन पर पथराव, रामलला के दर्शन करने जा रहे...

अयोध्या जा रही ‘आस्था स्पेशल’ ट्रेन पर पथराव, रामलला के दर्शन करने जा रहे थे श्रद्धालु: ऑपइंडिया से पीड़ित रामभक्तों ने बताई आपबीती

गुजरात के मेहसाणा से अयोध्या जा रही विशेष 'आस्था एक्सप्रेस' ट्रेन पर पत्थरबाजी की गई। इस घटना में ट्रेन के कई शीशे टूट गए और यात्रियों में दहशत भर गई।

गुजरात के सूरत से अयोध्या जा रही विशेष ‘आस्था एक्सप्रेस’ ट्रेन पर पत्थरबाजी की गई। इस घटना में ट्रेन के कई शीशे टूट गए और यात्रियों में दहशत भर गई। ये वारदात नंदुरबार स्टेशन पर पथराव की घटना हुई। इस घटना से ट्रेन में सवार यात्रियों में दहशत का माहौल पैदा हो गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविवार (11 फरवरी 2024) की रात करीब 8 बजे विशेष आस्था स्पेशल ट्रेन सूरत से रवाना हुई थी। इस ट्रेन में 1344 यात्री सवार थे। ये ट्रेन नंदुरबार स्टेशन पहुँची ही थी, कि इस पर पत्थर बरसने लगे। इस घटना से यात्रियों में दहशत फैल गई। कई पत्थर ट्रेन के अंदर आकर गिरे। हालाँकि गनीमत ये रही कि कोई यात्री घायल नहीं हुआ। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुँची जीआरपी और आरपीएफ ने शुरुआती जाँच के बाद ट्रेन को रवाना किया। वहीं इस मामले की जाँच में पुलिस भी जुट गई है।

ऑपइंडिया की गुजराती भाषा सेवा ने घटना की जानकारी लेने के लिए विश्व हिंदू परिषद के सूरत मंडल मंत्री और ट्रेन यात्रा प्रभारी नीलेश अकबरी से बात की। उन्होंने हमें बताया, “ट्रेन सूरत से अयोध्या के लिए रवाना हुई और करीब साढ़े नौ बजे नंदुरबार स्टेशन पहुँची। नंदुरबार से आधा किलोमीटर पहले तीन डिब्बों एस7, एस11 और एस12 पर पथराव किया गया। जिसमें से S7 पर फेंका गया पत्थर कोच में गिरा।”

नीलेश अकबरी ने आगे कहा, ”जैसे ही ट्रेन नंदुरबार पहुँचकर रुकी, हमने आरपीएफ को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने तुरंत कार्रवाई शुरू की और उस जगह की जाँच की, जहाँ पत्थर आया था। ट्रेन को कुछ देर के लिए वहाँ रुकना पड़ा और बाद में रवाना किया गया। इस घटना में कोई भी घायल नहीं हुआ। ऐसा लगता है कि अंधेरे का फायदा उठाकर पत्थरबाजी की गई थी।”

जिस ट्रेन पर पथराव हुआ, उसमें कितने यात्री हैं और कौन-कौन अयोध्या में यात्रा कर रहे हैं, इसके जवाब में अकबरी ने कहा, ‘फिलहाल इस ट्रेन में कुल 1344 राम भक्त यात्रा कर रहे हैं। ये सभी लोग राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल समेत कई हिंदू संगठनों से जुड़े हैं। फिलहाल यात्रा शांतिपूर्वक चल रही है। हम आज (12 फरवरी 2024) को करीब रात 9 बजे अयोध्या पहुँचेंगे।”

बता दें कि सूरत से अयोध्या जा रही विशेष ‘आस्था एक्सप्रेस’ ट्रेन को राम भक्तों के लिए चलाई गई है। ऐसी कई स्पेशल ट्रेनों को देश के अलग-अलग हिस्सों से चलाया जा रहा है, जो अयोध्या जाएगी और लोगों को भगवान राम के दर्शन के बाद वापस भी लाएगी। चूँकि 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद से अयोध्या जाने वाले लोगों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है, ऐसे में भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए आस्था स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू किया है। ये ट्रेन 22 जनवरी से शुरू हुई थी और अगले कुछ महीनों तक चलने वाली है।

गुजरात से 6 फरवरी 2024 को पहली आस्था स्पेशल को हरी झंडी दिखाई गई थी। गुजरात के मेहसाणा में गुजरात के वन एवं पर्यावरण मंत्री मुकेश पटेल, स्थानीय विधायक और अन्य बीजेपी नेताओं ने ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Krunalsinh Rajput
Krunalsinh Rajput
Journalist, Poet, And Budding Writer, Who Always Looking Forward To The Spirit Of Nation First And The Glorious History Of The Country And a Bright Future.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -