Monday, July 22, 2024
Homeराजनीतिमोहल्ला क्लीनिक में गलत दवा से तीन बच्चों की मौत के मामले में केजरीवाल...

मोहल्ला क्लीनिक में गलत दवा से तीन बच्चों की मौत के मामले में केजरीवाल सरकार ने 3 डॉक्टरों को किया टर्मिनेट, 16 हुए थे बीमार

"बच्चों के जीवन से क्यों खिलवाड़ किया अरविंद केजरीवाल। ये दवाई चार साल से कम उम्र के बच्चों को नहीं देनी चाहिए, लेकिन केजरीवाल का मोहल्ला क्लीनिक ये दवाई बिना किसी प्रिस्क्रिप्शन के ही बच्चों को दे रहे हैं।"

दिल्ली मोहल्ला क्लीनिक के गलत प्रेस्क्रिप्शन के चलते तीन बच्चों की डिस्ट्रोमेथोर्फन कफ सिरप के साइड इफेक्ट (Side effect of dextromethorphan cough syrup) की वजह से मौत हो गई है। इस मामले में बीजेपी के द्वारा आम आदमी पार्टी को घेरने के बाद दिल्ली सरकार ने तीन डॉक्टरों को टर्मिनेट कर दिया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया, ”तीन डॉक्टरों को टर्मिनेट कर दिया गया है और इस मामले की जाँच डीएमसी करेगी।”

बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने सोशल मीडिया पर केजरीवाल सरकार पर स्वास्थ्य सेवाओं में लापरवाही का आरोप लगाते हुए लिखा, “बच्चों के जीवन से क्यों खिलवाड़ किया अरविंद केजरीवाल। ये दवाई चार साल से कम उम्र के बच्चों को नहीं देनी चाहिए, लेकिन केजरीवाल का मोहल्ला क्लीनिक ये दवाई बिना किसी प्रिस्क्रिप्शन के ही बच्चों को दे रहे हैं।”

वहीं, सोशल मीडिया पर भी लोगों में इस घटना को लेकर काफी आक्रोश देखा जा रहा है, जिसके चलते आज दोपहर से ही ट्विटर पर #KejriwalKilledChildren ट्रेड हो रहा है।

बता दें कि दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक में डिस्ट्रोमेथोर्फन कफ सिरप के साइड इफेक्ट वजह से 16 बच्चे बीमार हो गए, जिनमें से 3 बच्चों की मौत हो गई है। जाँच रिपोर्ट आने के बाद केंद्र सरकार के डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज (DGHS) ने दिल्ली सरकार के डीजीएचएस को निर्देश दिया है कि वह सभी मोहल्ला क्लीनिक और डिस्पेंसरी को नोटिस जारी कर बताए कि चार साल से कम उम्र के बच्चों को डिस्ट्रोमेथोर्फन सिरप प्रिसक्राइब नहीं करे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

15 अगस्त को दिल्ली कूच का ऐलान, राशन लेकर पहुँचने लगे किसान: 3 कृषि कानूनों के बाद अब 3 आपराधिक कानूनों से दिक्कत, स्वतंत्रता...

15 सितंबर को जींद और 22 सितंबर को पीपली में किसानों की रैली प्रस्तावित है। किसानों ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा 'टेनी' के बेटे आशीष को जमानत दिए जाने की भी निंदा की।

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -