Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिजिन कॉन्ग्रेस विधायकों के कारण हिमाचल में हारे अभिषेक मनु सिंघवी, वे BJP में...

जिन कॉन्ग्रेस विधायकों के कारण हिमाचल में हारे अभिषेक मनु सिंघवी, वे BJP में हुए शामिल: 3 निर्दलीय MLA ने भी हाथ में पकड़ा कमल का फूल

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल की मौजूदगी में ये सभी नेता भाजपा में शामिल हुए। इस दौरान राज्यसभा सांसद हर्ष महाजन भी मौजूद थे। बताया जा रहा है कि अयोग्य ठहराए गए विधायकों ने गुरुवार (21 मार्च 2024) की रात को भाजपा हाईकमान के साथ बैठक की थी। इसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए।

हिमाचल प्रदेश में पार्टी से निष्कासित किए गए कॉन्ग्रेस के 6 पूर्व विधायक शनिवार (23 मार्च 2024) को भाजपा (BJP) में शामिल हो गए। दरअसल, कॉन्ग्रेस के एक व्हिप का उल्लंघन करने के बाद इन इन लोगों को विधायक पद से अयोग्य करार दिया गया था। वे केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आदि नेताओं की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गए।

इन बागी नेताओं को पार्टी में शामिल करते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि इनके आने से भाजपा और मजबूत होगी। पूर्व सीएम ने कहा कि राज्य में कॉन्ग्रेस सरकार पर अपने वादों को पूरा न करने का आरोप लगाया और कहा कि इससे जनता में आक्रोश है। जयराम ठाकुर ने कहा कि जनाक्रोश के कारण इन नेताओं ने हाल में हुए संपन्न हुए राज्यसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन किया था।

कॉन्ग्रेस के जो 6 बागी विधायक भाजपा में शामिल हुए वे हैं- राजेंद्र राणा, रवि सिंह ठाकुर, इंद्रदत्त लखनपाल, सुधीर शर्मा, चैतन्य शर्मा और देवेंद्र कुमार भुट्टो। ये सभी कॉन्ग्रेस के टिकट पर निर्वाचित हुए थे, लेकिन हिमाचल प्रदेश विधानसभा में राज्य सरकार के पक्ष में मतदान करने के पार्टी व्हिप की अवज्ञा करने के कारण 29 फरवरी 2024 को अयोग्य करार दिया गया था।

इन विधायकों की विधायकी जाने के बाद निर्वाचन आयोग ने इनके निर्वाचन क्षेत्रों में उपचुनाव की घोषणा की है। माना जाता है कि ये सभी पूर्व विधायक भाजपा की टिकट पर अपनी-अपनी सीटों पर चुनाव लड़ सकते हैं। इसके अलावा, तीन निर्दलीय विधायकों – आशीष शर्मा, होशियार सिंह और केएल ठाकुर ने शुक्रवार (22 मार्च 2024) भी भाजपा में शामिल हो गए हैं।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल की मौजूदगी में ये सभी नेता भाजपा में शामिल हुए। इस दौरान राज्यसभा सांसद हर्ष महाजन भी मौजूद थे। बताया जा रहा है कि अयोग्य ठहराए गए विधायकों ने गुरुवार (21 मार्च 2024) की रात को भाजपा हाईकमान के साथ बैठक की थी। इसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए।

इस दौरान राजेंद्र राणा ने कहा कि जब से कॉन्ग्रेस की सरकार बनी है, तब जनता की सुनवाई नहीं हो रही है। सरकार युवाओं के रोजगार पर गौर नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों से किए गए वादे पूरी नहीं कर रही है। सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू तानाशाह बन गए हैं और वे लोगों को अपमानित कर रहे। विधायकों की सुनने वाला कोई नहीं है। सरकार विधायकों के मुताबिक नहीं चल रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -