Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिकेजरीवाल सरकार की 'शराब पॉलिसी' के कारण ₹2500 करोड़ का नुकसान: RTI में खुलासा,...

केजरीवाल सरकार की ‘शराब पॉलिसी’ के कारण ₹2500 करोड़ का नुकसान: RTI में खुलासा, BJP नेता बोले- ये आबकारी नहीं पापकारी नीति

शहजाद पूनावाला ने कहा, "नई शराब नीति के तहत, दिल्ली सरकार ने 17 नवंबर 2021 से 31 अगस्त 2022 तक कुल 5,036 करोड़ रुपए कमाए, यानी प्रतिदिन 17.5 करोड़ रुपए की कमाई हुई। जबकि पुरानी शराब नीति के हिसाब से सितंबर 2022 में कुल 768 करोड़ रुपए कमाए यानी प्रतिदिन 25.6 करोड़ रुपए की कमाई हुई। इस तरह से हर दिन कम से कम 8 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।"

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार शराब घोटाले को लेकर घिरी हुई है। इस मामले में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर समेत कई ठिकानों पर छापेमारी की जा चुकी है। साथ ही, सिसोदिया पर गिरफ्तारी की तलवार भी लटक रही है। इस शराब घोटाले को लेकर भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने दिल्ली सरकार की आबकारी नीति को पापकारी नीति करार देते हुए कहा है कि आप का पाप बेनकाब हुआ है। उन्होंने यह भी कहा है कि शराब नीति से सरकार को अब तक सामने आए आँकड़ों से कहीं अधिक नुकसान हुआ है।

भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने दावा किया है कि उन्हें आरटीआई से प्राप्त जानकारी के अनुसार दिल्ली सरकार की शराब नीति से सरकारी खजाने को करीब 2500 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। शहजाद ने ट्वीट कर कहा “दिल्ली सरकार की ओर से एक आरटीआई का जवाब मिला है, जिसके मुताबिक, नई शराब नीति के चलते कम से कम 2500 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।”

उन्होंने आगे कहा है “नई शराब नीति के तहत, दिल्ली सरकार ने 17 नवंबर 2021 से 31 अगस्त 2022 तक कुल 5,036 करोड़ रुपए कमाए, यानी प्रतिदिन 17.5 करोड़ रुपए की कमाई हुई। जबकि पुरानी शराब नीति के हिसाब से सितंबर 2022 में कुल 768 करोड़ रुपए कमाए यानी प्रतिदिन 25.6 करोड़ रुपए की कमाई हुई। इस तरह से हर दिन कम से कम 8 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।”

इसके अलावा, शहजाद पूनावाला ने कथित स्टिंग ऑपरेशन और जाँच का हवाला देते हुए कहा है कि जिस तरह से शराब माफियाओं से आप नेताओं ने कमीशन लिया है उसका भी प्रमाण सामने आ चुका है। उन्होंने कहा है कि शराब घोटाले में शराब माफियाओं के साथ आम आदमी पार्टी के नेताओं की मिलीभगत के कारण ही उन्हें कोर्ट से कोई राहत नहीं मिल रही है।

उन्होंने आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाते हुए कहा है कि दिल्ली के शराब घोटाले का पैसा पंजाब चुनाव में इस्तेमाल हुआ है और अब इसका इस्तेमाल गुजरात के लिए भी किया जा रहा है। पूनावाला ने आगे कहा कि, जब भी शराब नीति के बारे में सवाल उठाए जाते हैं आम आदमी पार्टी मामले को मोड़ देती है या विक्टिम कार्ड खेलना शुरू कर देती है।

शहजाद पूनावाला ने कहा “हमारे प्रवक्ता और नेता संबित पात्रा, मनोज तिवारी, प्रवेश वर्मा और आदेश गुप्ता ने करीब एक महीने पहले 10-12 सवाल पूछे थे। आखिर कमीशन क्यों बढ़ाया गया? धवन रिपोर्ट में की गई सिफारिशों के बावजूद होलसेल निजी कंपनियों को क्यों दिया गया? लाइसेंस का समय क्यों बढ़ाया गया? कैश में पैसे क्यों लिये और इनका पंजाब में इस्तेमाल क्यों हुआ? बिना प्रक्रिया का पालन किये महंगे बीयरों पर छूट क्यों दी गई?”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -