Saturday, November 27, 2021
Homeराजनीति'मुस्लिमों को आरक्षण देगी शिवसेना, NCP और कॉन्ग्रेस के समर्थन से बन सकती है...

‘मुस्लिमों को आरक्षण देगी शिवसेना, NCP और कॉन्ग्रेस के समर्थन से बन सकती है सरकार’

"महाराष्ट्र की राजनीति बदल रही है और लोग जिसे हंगामा बता रहे हैं, वो न्याय की लड़ाई है। महाराष्ट्र का निर्णय महाराष्ट्र में होगा और अंतिम निर्णय उद्धव ठाकरे लेंगे।"

महाराष्ट्र के राजनीतिक परिदृश्य में राष्ट्रपति शासन और समय पूर्व चुनाव की आहटों के बीच एनसीपी ने अपने पत्ते खोलने शुरू कर दिए हैं। पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने भी कुछ इसी तरफ इशारा किया था। कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मिलने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री पवार ने कहा था कि भविष्य में उनकी पार्टी का स्टैंड बदल भी सकता है। अब एनसीपी के मुंबई इकाई के अध्यक्ष नवाब मलिक ने अपनी पार्टी के शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल होने को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि शिवसेना ने भाजपा के साथ जाने के बाद ही धर्म की राजनीति शुरू की।

नवाब मलिक ने कहा कि अगर शिवसेना भाजपा का साथ छोड़ कर आती है और एनसीपी से समर्थन माँगती है तो पार्टी उसे समर्थन देगी और कॉन्ग्रेस को भी इसके लिए राजी करेगी। नतीजे आने के बाद 12 दिन बीत चुके हैं लेकिन अभी तक महाराष्ट्र में सरकार गठन की कवायद ही चल रही है और कोई ठोस परिणाम नहीं निकला है। नवाब मलिक ने कहा कि भाजपा ने शिवसेना को 5 साल तक अपमानित किया और अब उसे लग रहा है कि कुंजी एनसीपी के हाथों में है। उन्होंने आश्वासन दिया कि कॉन्ग्रेस के साथ बात हो जाएगी लेकिन पहले शिवसेना तो फ़ैसला करे।

शिवसेना की विचारधारा को लेकर मुंबई एनसीपी के अध्यक्ष ने कहा कि उनकी विचारधारा आड़े नहीं आएगी। उन्होंने दावा किया कि भाजपा से अलग होते ही शिवसेना की विचारधारा बदलेगी। उन्होंने बताया कि कॉन्ग्रेस के भीतर भी शिवसेना को समर्थन देने को लेकर कोई अंदरूनी विवाद नहीं है। बकौल मलिक, शिवसेना ने मुस्लिमों को आरक्षण देने का भी वादा किया है। उधर शिवसेना ने इन अटकलों पर विराम लगा दिया है, जिनमें एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के नेतृत्व में सरकार गठन की बातें की जा रही थीं।

शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया है कि राज्य में मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। सामना के एग्जीक्यूटिव एडिटर राउत ने कहा कि महाराष्ट्र की राजनीति बदल रही है और लोग जिसे हंगामा बता रहे हैं, वो न्याय की लड़ाई है। राउत ने कहा कि महाराष्ट्र का निर्णय महाराष्ट्र में होगा और अंतिम निर्णय उद्धव ठाकरे लेंगे। मीडिया में ये बातें भी चल रही हैं कि शिवसेना मुख्यमंत्री का पद अपने पास रख कर 2 उप-मुख्यमंत्री बना सकती है। कॉन्ग्रेस और एनसीपी के कोटे से एक-एक डिप्टी सीएम होंगे। हालाँकि, अभी कॉन्ग्रेस पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं और शरद पवार भी चुप ही हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बढ़ता आरक्षण हो, समान नागरिक संहिता या… कुछ और: संविधान दिवस बनेगा विमर्शों का कारण, पिछले 7 सालों में PM मोदी ने दी है...

विमर्शों का कोई अंतिम या लिखित निष्कर्ष निकले यह आवश्यक नहीं पर विमर्श हो यह आवश्यक है क्योंकि वर्तमान काल भारतीय संवैधानिक लोकतंत्र की यात्रा के मूल्यांकन का काल है।

कश्मीर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के कमांडर हाजी आरिफ को मार गिराया, 2018 के बैट हमले में इस पूर्व पाक सैनिक की थी अहम...

जम्मू-कश्मीर में एलओसी के निकट सुरक्षाबलों ने आतंकियों के मददगार हाजी आरिफ को मार गिराया। पहले पाकिस्तानी सेना में था यह आतंकी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
139,817FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe