Monday, October 18, 2021
Homeराजनीतिओवैसी की मुस्लिम-यादव चाल: बिहार चुनाव से पहले देवेन्द्र यादव के साथ गठबंधन, RJD...

ओवैसी की मुस्लिम-यादव चाल: बिहार चुनाव से पहले देवेन्द्र यादव के साथ गठबंधन, RJD ने कहा – ‘वोट कटवा’

"ऐसा नहीं हो सकता कि मुस्लिम मत किसी एक ही राजनीतिक दल का एकाधिकार हो। मुझे तो यह बात समझ नहीं आती है कि कोई नेता मुस्लिम मतों पर किस अधिकार से दावा करता है।"

एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को पटना में प्रेस वार्ता करते हुए बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर एक अहम ऐलान किया। उन्होंने बताया कि एआईएमआईएम और पूर्व केन्द्रीय मंत्री देवेन्द्र यादव की पार्टी समाजवादी जनता दल गठबंधन बना कर बिहार विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

इस गठबंधन का नाम यूडीएसए (यूनाइटेड डेमोक्रेटिक सेक्युलर अलायन्स) तय किया गया है। आगामी 24 सितंबर तक सीटों के चयन पर निर्णय लिया जाएगा। 

ओवैसी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) द्वारा ‘वोट कटवा’ कहे जाने के सवाल पर भी अपना पक्ष रखा। ओवैसी ने कहा:

“जितने लोग हमें वोटकटवा कहते हैं, वह 2019 के लोकसभा चुनावों में अपना हश्र याद कर सकते हैं। चुनावों में उन तथाकथित ठेकेदारों का क्या हुआ था, यह बात हम सभी जानते हैं। ऐसा नहीं हो सकता कि मुस्लिम मत किसी एक ही राजनीतिक दल का एकाधिकार हो। मुझे तो यह बात समझ नहीं आती है कि कोई नेता मुस्लिम मतों पर किस अधिकार से दावा करता है। असल मायनों में अगर कोई भाजपा की जीत के लिए ज़िम्मेदार है, तो वह राजद है।” 

फिर ओवैसी ने कहा कि लोग उन पर ऐसा आरोप लगाते हैं कि वो एक धर्म की राजनीति करते हैं जबकि यह सरासर गलत है। इसके बाद ओवैसी से अलकायदा के 9 संदिग्ध सदस्यों की गिरफ्तार पर सवाल किया गया। इस सवाल का जवाब देते हुए ओवैसी ने कहा यह कार्रवाई जाँच एजेंसी एनआईए ने की है, बहुत जल्द पूरी बात सामने आएगी कि वह कौन लोग हैं।

राजद द्वारा अहमियत नहीं दिए जाने पर ओवैसी ने कहा, “हम तो ट्विंकल ट्विंकल लिटिल स्टार हैं लेकिन बिहार की आम जनता यह बखूबी समझती है कि कौन किसे भाव दे रहा है। इस चुनाव में भी नतीजे आने पर सब कुछ साफ़ हो जाएगा।” 

इसके बाद समाजवादी जनता दल के अध्यक्ष देवेन्द्र यादव ने भी प्रेस वार्ता में कई बातें कहीं। उन्होंने कहा कि बिहार में विपक्ष पूरी तरह निष्क्रिय है, वह अपनी ज़िम्मेदारी सही से नहीं निभा रहा है। मज़दूरों को पलायन करना पड़ता है, राज्य में बेरोज़गारी चरम पर है, लोग रोज़गार के लिए दूसरे राज्यों की तरफ जाते हैं।

देवेन्द्र यादव के अनुसार बीते कई सालों से बिहार की फैक्ट्रियाँ और मिलें बंद पड़ी हैं, उन पर किसी का ध्यान नहीं जाता है। पिछले 3 दशकों में जितने भी राजनीतिक दल सत्ता में आए, सभी ने बिहार का हाल बेहाल ही किया है। बिहार में बहुत कुछ सुधारने की ज़रूरत है और यह तभी संभव होगा जब जनता चाहेगी।   

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की एडवाइजरी, आईजी ने किया खंडन

घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की तैयारी। आईजी ने किया खंडन।

दुर्गा पूजा जुलूस में लोगों को कुचलने वाला ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार, नदीम फरार, भीड़ में कई बार गाड़ी आगे-पीछे किया था

भोपाल में एक कार दुर्गा पूजा विसर्जन में शामिल श्रद्धालुओं को कुचलती हुई निकल गई। ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार। साथ बैठे नदीम की तलाश जारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,527FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe