‘ईमानदार’ राजीव गाँधी के जन्मदिन पर सोनिया बोलीं- उन्होंने सत्ता का दुरुपयोग बिलकुल नहीं किया

इस मौके पर सोनिया ने नरेंद्र मोदी पर भी भरपूर निशाना साधा। उन्होंने राजीव गाँधी के घमंड न करने, नारे न लगाने आदि का ज़िक्र कर मोदी को घेरने की भरपूर कोशिश की। साथ ही दावा भी किया कि जैसे 1989 में राजीव गाँधी ने.....

कॉन्ग्रेस अध्यक्ष के पद पर हाल ही में अंतरिम तौर पर वापसी करने वालीं संप्रग अध्यक्षा सोनिया गाँधी भी मोदी सरकार पर ‘डर का माहौल’ बनाने का आरोप लगाने वालों में शामिल हो गईं हैं। उन्होंने राजीव गाँधी के 75वें जन्मदिवस के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी पर अप्रत्यक्ष निशाना साधते हुए यह बात कही। सोनिया गाँधी पूर्व प्रधानमंत्री के जन्मदिन कार्यक्रम पर दिल्ली में बोल रहीं थीं।

1984 में मिला था पूर्ण बहुमत

1984 में अपनी माँ इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद हुए आम चुनावों में राजीव गाँधी के नेतृत्व में कॉन्ग्रेस को 404 सीटें मिलीं थीं, और जनसंघ को पुनर्जीवित कर बनी भाजपा महज़ 2 सीटों पर सिमट गई थी। सोनिया गाँधी ने उन्हीं चुनावों को याद कराते हुए कहा कि राजीव ने कभी ‘भय का वातावरण’ बनाने या लोगों की आज़ादी और अधिकारों का हनन करने के लिए बहुमत का इस्तेमाल नहीं किया। उन्होंने कभी लोकतंत्र के मूल्यों को खतरे में नहीं डाला।

राजीव के फैसले याद दिलाए

सोनिया गाँधी ने इस मौके पर राजीव गाँधी के कई फैसले याद दिलाए। उन्होंने राजीव सरकार द्वारा मतदान की उम्र घटाकर 18 साल किए जाने, स्थानीय निकायों (पंचायतों और नगरपालिकाओं) को वैधानिक दर्जा मिलने, दूरसंचार क्रांति आदि का ज़िक्र किया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

साथ ही इस मौके पर सोनिया ने नरेंद्र मोदी पर भी भरपूर निशाना साधा। उन्होंने राजीव गाँधी के घमंड न करने, नारे न लगाने आदि का ज़िक्र कर मोदी को घेरने की भरपूर कोशिश की। साथ ही दावा भी किया कि जैसे 1989 में राजीव गाँधी ने ‘निःस्वार्थ’ ईमानदारी से पूर्ण बहुमत न होने के चलते सरकार बनाने से मना किया, वैसा आज कोई और नेता नहीं कर सकता।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कश्मीरी पंडित, सुनंदा वशिष्ठ
"उस रात इस्लामी आतंकियों ने 3 विकल्प दिए थे - कश्मीर छोड़ दो, धर्मांतरण कर लो, मारे जाओ। इसके बाद गिरिजा टिक्कू का सामूहिक बलात्कार कर टुकड़ों में काट दिया। बीके गंजू को गोली मारी और उनकी पत्नी को खून से सने चावल (वो भी पति के ही खून से सने) खाने को मजबूर किया।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,599फैंसलाइक करें
22,628फॉलोवर्सफॉलो करें
119,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: