Tuesday, July 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'या अल्लाह… काफिरों का कर दो सफाया' : कनाडा के इमाम शेख यूनुस ने...

‘या अल्लाह… काफिरों का कर दो सफाया’ : कनाडा के इमाम शेख यूनुस ने दिया भड़काऊ बयान, बोला- बच्चे गैर-मुस्लिमों को समझें अपना दुश्मन

वीडियो के अंत में शेख यूनुस ने अरबी में दुआ पढ़ते हुए कहा, "या अल्लाह, इस्लाम और मुस्लिमों को ताकत दो, काफिरों और अनेक देवी देवताओं की पूजा करने वाले को अपमानित करो, इस्लाम के दुश्मनों और काफिरों का सफाया करो!"

कनाडा के इमाम शेख यूनुस कथराडा ने गैर-मुस्लिमों के लिए आग उगला है। इससे जुड़ा उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में इमाम यूनुस मुस्लिमों को गैर-मुस्लिमों के खिलाफ भड़का रहा है। शेख यूनुस कह रहा है, “हमारे बच्चों को यह समझना चाहिए कि गैर-मुस्लिम अल्लाह के दुश्मन हैं इसलिए वे हमारे दुश्मन हैं।”

अमेरिका स्थित मिडिल ईस्ट मीडिया रिसर्च इंस्टीट्यूट के ट्विटर हैंडल MEMRI से एक वीडियो पोस्ट किया गया। सबटाइटल में वीडियो में कही गई बातों का अंग्रेजी अनुवाद भी था। रिपोर्ट्स के मुताबिक कनाडाई इमाम शेख यूनुस कनाडा के विक्टोरिया में मुस्लिमों के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में खिताब कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने गैर-मुस्लिमों को लेकर काफी भड़काने वाली बातें कहीं। उनके निशाने पर सबसे ज्यादा ईसाई थे। अपने खिताब में इमाम ने कहा कि अल्लाह की तौहीन करने वाले अल्लाह के दुश्मन हैं। अल्लाह ने कुरान में कहा है कि उन्हें किसी ने पैदा नहीं किया, न वो किसी के बच्चे हैं न उनकी कोई औलाद है। लेकिन ईसाई कहते हैं कि अल्लाह का एक बेटा है। क्या यह अल्लाह का अपमान नहीं है?

2 मिनट 12 सेकेंड के इस वीडियो में इमाम ने कहा, “गैर मुस्लिम, जिनमें ईसाई, यहूदी और दूसरे नास्तिक शामिल हैं वो अल्लाह के दुश्मन हैं। क्या आपको लगता है कि वे आपके दोस्त हैं? नहीं, अगर वे अल्लाह के दुश्मन हैं तो आपके दोस्त कैसे हो सकते हैं? मैं चाहता हूँ कि हमारे बच्चे इस बात को अच्छी तरह समझ लें। वे अल्लाह के दुश्मन हैं इसलिए आपके भी दुश्मन हैं। उनमें से कुछ लोग तो अल्लाह के अस्तित्व पर ही विश्वास नहीं करते। क्या आप ऐसे किसी शख्स को अपना दोस्त बनाना चाहते हैं?”

वीडियो के अंत में शेख यूनुस ने अरबी में दुआ पढ़ते हुए कहा, “या अल्लाह, इस्लाम और मुस्लिमों को ताकत दो, काफिरों और अनेक देवी देवताओं की पूजा करने वाले को अपमानित करो, इस्लाम के दुश्मनों और काफिरों का सफाया करो!”

इमाम शेख यूनुस के सोशल मीडिया अकाउंट्स इस तरह के नफरती वीडियो से भरे पड़े हैं। सबसे ज्यादा हैरानी इस बात पर है कि कनाडा में रहने वाला शेख यूनुस लगातार जहरीले बयान देता रहता है। लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है जबकि कनाडा एक ईसाई बहुल देश है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -