Thursday, May 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान खान के 'आजादी मार्च' से पाकिस्तान में भड़की हिंसा, इस्लामाबाद में मेट्रो स्टेशन...

इमरान खान के ‘आजादी मार्च’ से पाकिस्तान में भड़की हिंसा, इस्लामाबाद में मेट्रो स्टेशन फूँका: आगजनी-पत्थरबाजी के बाद सेना की तैनाती

इमरान खान और उनके समर्थकों ने चेतावनी के बाद भी D चौक से हटने से मना कर दिया है। उन्होंने चुनाव की घोषणा होने तक प्रदर्शन जारी रखने का ऐलान किया है।

पाकिस्तान में गृहयुद्ध जैसे हालत बन गए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के ‘आजादी मार्च’ में हिंसा की खबर है। इमरान समर्थकों ने इस्लामाबाद मेट्रो स्ट्रेशन को फूँक दिया। कुछ अन्य शहरों में हिंसक झड़प की सूचना है। सेना की तैनाती की गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हजारों वाहनों के साथ इमरान खान का काफिला इस्लामाबाद पहुँचा है। इसके चलते राजधानी में जाम लग गया। इसे रोकने के लिए पुलिस और सेना ने शहर के बाहर भी काफी प्रयास किए, लेकिन वो नाकाफी रहे। इमरान समर्थकों के प्रवेश के बाद इस्लामाबाद में आग की लपटें देखी जा रही हैं। इस बीच कराची, लाहौर में भी हिंसा भड़कने की खबर है। पुलिस ने हिंसा को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया। जवाब में प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिस बल पर पथराव किए जाने की खबर है।

इमरान खान का काफिला इस्लामाबाद के D चौक पर जमा हुआ है। पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री राणा सनाउल्लाह खान के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट, राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, पाकिस्तान TV मुख्यालय, सचिवालय और मंत्रियों के आवास वाले इलाके को रेड ज़ोन घोषित किया गया है। प्रदर्शनकारियों को रेड ज़ोन में किसी भी हाल में न घुसने की चेतावनी दी गई है। कई इलाकों में इंटरनेट भी बंद करवा दिया है। इमरान की पार्टी के कई सदस्यों को हिरासत में लिया गया है। झड़प में प्रदर्शनकारी और पुलिसकर्मी दोनों पक्षों से कई लोग घायल हुए हैं।

Dawn के मुताबिक इमरान खान और उनके समर्थकों ने पुलिस की चेतावनी के बाद भी D चौक से हटने से मना कर दिया है। उन्होंने चुनाव की घोषणा होने तक प्रदर्शन जारी रखने का ऐलान किया है। इमरान की पार्टी ने पूरे पाकिस्तान से प्रदर्शन में शामिल होने की अपील भी की है। औरतों और बच्चों से सड़कों पर उतरने की अपील करते हुए इमरान खान ने इसे ‘असली आज़ादी’ की लड़ाई बताया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -