Saturday, July 20, 2024
Homeसोशल ट्रेंडIPL की ओपनिंग में मुनव्वर फारूकी को देख आक्रोशित हुए लोग, JioCinema से पूछा...

IPL की ओपनिंग में मुनव्वर फारूकी को देख आक्रोशित हुए लोग, JioCinema से पूछा सवाल – हिन्दू विरोधी को क्यों दिया मंच?

हालाँकि, इस दौरान फैंस को सबसे ज्यादा खटका हिन्दू विरोधी मुनव्वर फारूकी का दिखना। JioCinema आईपीएल-2024 को OTT पर दिखा रहा है। वहीं मुनव्वर फारूकी को एक गेस्ट के रूप में देखा गया।

IPL 2024 का शुक्रवार (22 मार्च, 2024) को आगाज़ हुआ। पहले मैच चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के बीच खेला गया। चेन्नई में AR रहमान, सोनू निगम और मोहित चौहान जैसे संगीत की दुनिया के सितारों ने परफॉर्मेंस दिया। हालाँकि, इस दौरान फैंस को सबसे ज्यादा खटका हिन्दू विरोधी मुनव्वर फारूकी का दिखना। JioCinema आईपीएल-2024 को OTT पर दिखा रहा है। वहीं मुनव्वर फारूकी को एक गेस्ट के रूप में देखा गया।

JioCinema को कई लोग अनइंस्टॉल करने का अभियान भी चला रहे हैं। मुनव्वर फारूकी को मैच को लेकर राय देते हुए देखा गया। उनके साथ रैपर बादशाह भी बैठे हुए थे। साथ ही अन्य गेस्ट्स भी चर्चा करते हुए दिखे। ‘नेशनलिस्ट श्रेया’ ने लिखा, “हिन्दू विरोधी मुनव्वर फारूकी को कमेंट्री बॉक्स में क्यों बुलाया गया है? IPL के 80% दर्शक हिन्दू हैं और आप एक हिन्दू विरोधी को बुला रहे हैं? आपको शर्म आनी चाहिए। सब कोई JioCinema को अनइंस्टॉल करें।”

कुछ यूजर्स ने लिखा कि IPL एक बार फिर नीचे गिर रहा है, उसने हिन्दू देवी-देवताओं पर चुटकुले सुना कर कमाई करने वाले को गेस्ट के रूप में बुलाया है। मुनव्वर फारूकी को पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज ज़हीर खान के साथ भी चर्चा करते हुए देखा गया। वहीं इस दौरान ‘बिग बॉस OTT’ और ‘लॉक अप’ रियलिटी शो के विजेता मुनव्वर फारूकी के फैंस खासे खुश नज़र आए और वो उनके क्लिप्स शेयर करते व साथ ही लुक्स की भी तारीफ़ की।

हाल ही में मुनव्वर फारूकी के कारण 2 हिन्दू यूट्यूबर्स में मारपीट भी हो गई। यूट्यूबर मैक्सटर्न ने आरोप लगाए हैं कि एल्विश यादव और उनके 8 साथियों ने उसके साथ मारपीट की। एल्विश यादव और मुनव्वर फारूकी एक साथ मैदान पर क्रिकेट खेलने उतरे। इस दौरान दोनों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं और मैक्सटर्न (सागर ठाकुर) ने एल्विश यादव की आलोचना की थी। हालाँकि, बाद में दोनों ने आपसी मनमुटाव भुला कर झगड़े को खत्म कर लिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -