विषय: यासीन मलिक

यासीन मलिक

टेरर फंडिंग मामला: यासीन मलिक सहित अन्य अलगाववादी नेताओं के खिलाफ चार्जशीट मंजूर

एनआईए की चार्जशीट के मुताबिक आरोपितों में यासीन मलिक के अलावा शब्बीर शाह, आसिया अंद्राबी, मसर्रत आलम और रशीद इंजीनियर हैं।
यासीन मलिक, नेशनल वॉर मेमोरियल, रवि खन्ना

स्क्वाड्रन लीडर रवि खन्ना का नाम नेशनल वॉर मेमोरियल में, यासीन मलिक ने करवाई थी हत्या

भारतीय वायुसेना के जवानों की हत्या तब की गई थी जब उनके पास कोई भी हथियार नहीं था और वे एयरपोर्ट जाने के लिए बस का इन्तजार कर रहे थे। वहाँ भारतीय वायुसेना के 14 जवान थे। जवानों के अलावा 2 कश्मीरी महिलाओं की भी हत्या कर दी गई थी।
यासीन मलिक

टेरर फंडिंग मामला: NIA कोर्ट ने दिया यासीन मलिक को झटका, 23 अक्टूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत

अलगाववादी यासीन मलिक के ख़िलाफ़ 2017 में टेरर फंडिंग का आरोप है। इसी मामले में कोर्ट ने उसकी न्यायिक हिरासत को 23 अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया है। अलगाववादी यासीन मलिक को दिल्ली के तिहाड़ जेल में रखा गया है।

30 साल बाद यासीन मलिक के ख़िलाफ़ ट्रायल शुरू: वायुसेना के 4 जवानों की आतंकियों ने कर दी थी हत्या

यासीन मलिक द्वारा संचालित आतंकी संगठन के आतंकवादियों ने 4 जवानों के अलावा 2 कश्मीरी महिलाओं की हत्या कर दी थी। आतंकियों ने ख़ून से लथपथ जवानों के सामने डांस करते हुए जिहादी नारे भी लगाए।
यासीन मलिक,टाडा कोर्ट

पूर्व गृहमंत्री के बेटी का अपहरण व 5 सैनिकों की हत्या के मामले में टाडा कोर्ट में पेश होंगे यासीन मलिक

यासीन मलिक के ख़िलाफ़ इस समय जिन दो मामलों में केस चल रहा है, वह काफ़ी पुराने हैं। रुबिया सईद के अपहरण के दौरान सीबीआई द्वारा दाखिल चालान के मुताबिक श्रीनगर के सदर पुलिस स्टेशन में आठ दिसंबर 1989 को रिपोर्ट दर्ज हुई थी। जबकि सैनिको की हत्या वाला मामला 25 जनवरी 1990 का है।
यासीन मलिक

तिहाड़ में बंद यासीन मलिक की बीवी ने इस्लामाबाद के जलसे में पढ़ी भारत विरोधी कविता

यासीन मलिक को एनआईए ने टेरर फंडिंग से जुड़े मामले में गिरफ़्तार किया था। यासीन और मशाल की शादी इस्लामाबाद में ही हुई थी। इस समारोह में पाक अधिकृत जम्मू-कश्मीर के कथित प्रधानमंत्री सहित पाकिस्तान व कश्मीर के कई नेता व अलगाववादी शामिल हुए थे।
यासीन मलिक

फैक्ट चेक: ‘आतंकी’ की ‘फर्जी’ फोटो वायरल करवा मुफ्ती-शेहला कर रहीं रहम की अपील, कश्मीर बंद का ढोंग

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर ‘वायरल’ की जा रही है, जिसके कारण JNU की फ्रीलांस प्रोटेस्टर शेहला रशीद से लेकर कश्मीर में महबूबा मुफ़्ती तक का दिल दुखा है और वो यासीन मलिक को इस 'फर्जी' तस्वीर के अनुसार मिलने वाली यातनाओं के खिलाफ सरकार से रहम की अपील कर रही हैं।
बहन के अपहरण के आरोपित यासीन मलिक के समर्थन में महबूबा

मोदी सरकार ने लिया J&K में अब तक का सबसे बड़ा फैसला: JKLF पर लगा प्रतिबंध

जिस जेकेएलएफ और यासीन मलिक पर महबूबा मुफ्ती की बहन के अपहरण का आरोप है, महबूबा उसी के समर्थन में खड़ी हो गईं हैं।

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,129फैंसलाइक करें
35,293फॉलोवर्सफॉलो करें
161,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements