विषय: pulwama terror attack

‘द वायर’ पर गाय और आतंकी में अंतर नहीं! कश्मीर में आतंकी रहने तक चुनाव न हों!

गाय की मौत पर इकट्ठा होने वाले संवेदनशील गाँव उस बच्चे को पहली ही बार बहकने पर, इकट्ठा होकर क्यों नहीं समझाने आया कि बेटा, हथियार मत उठाओ? तब आपके गाँव की संवेदना और नैतिकता कहाँ थी! और आप एक गाय को बीच में ले आते हैं? क्या गाय ने किसी पर ग्रेनेड फेंका था
मौलाना मसूद अज़हर

UN ने पुलवामा हमले के बाद ही शुरू की मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकवादी घोषित करने की पहल: MediaReports

मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् द्वारा पुलवामा आतंकी हमले के बाद सख्त रवैया अपनाया गया और तमाम साक्ष्य और सुबूतों के आधार पर ही उन्होंने यह फैसला लिया है।

सर्टिफाइड ‘मौलाना’ है मसूद अजहर: आतंक का मजहब भले न हो, आतंकी का मजहब स्पष्ट है

मौलाना मसूद अज़हर कोई एक अकेला आतंकवादी नहीं है। जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन पूरी तरह से उसके परिवारवालों और परिजनों द्वारा संचालित है। इंडियन एयरलाइन्स के विमान IC-814 की हाईजैकिंग का मास्टरमाइंड मसूद का भाई इब्राहिम अज़हर था।

जानिए कौन सी संस्था है ISI से भी ज्यादा खतरनाक और कैसे पाकिस्तान लड़ रहा है इन्फॉर्मेशन युद्ध

सोशल मीडिया पर चारों तरफ पाकिस्तानी सेना की बहादुरी की पोस्ट की जा रही थी। आखिर क्यों इस तरह कि खबर डाली गयी और कौन था इस खबर के पीछे? शायद आप यह भी नहीं जानते हैं कि मेजर जनरल आसिफ ग़फूर ‏कौन है और किस पाकिस्तानी संस्था के लिए काम करता है।
अजीज कुरैशी, कॉन्ग्रेस नेता

’42 लोगों की चिता की राख से मोदी करेंगे राजतिलक’: कॉन्ग्रेस नेता अज़ीज़ क़ुरैशी

अज़ीज़ ने कहा, "मोदी चाहेंगे कि 42 लोगों के खून से अपने माथे पर तिलक लगा लें, तो लोग नहीं करने देंगे उनको।"
राहुल गांधी और सैम पित्रोदा

कॉन्ग्रेसी चाटुकार सैम पित्रोदा के लिए मोबाइल फोन चलाने वाला हर भारतीय बन्दर है

पित्रोदा ने हाल ही में राहुल गाँधी की प्रस्तावित NYAY योजना का बचाव करने की कोशिश की थी और यह भी कहा था कि भले ही करों को बढ़ाना होगा इसके लिए मध्यम वर्ग को स्वार्थी नहीं होना चाहिए और इसके उन्हें अपना दिल बड़ा करना होगा।
रवीश कुमार

रवीश कुमार जी वाह! KFC में बैठकर शाकाहार पर प्रवचन…

जब 6 फुट का CRPF का जवान अपने घर 200 ग्राम के मांस के बंडल में पहुँच रहा है, उसकी स्थिति को देखकर जो लोग दुखी हैं, उनको रवीश कुमार अपने प्राइम टाइम में उन्मादी बता रहे हैं। इस पर तो कुछ बोलना ही शेष नहीं रह जाता और यह वही रवीश कुमार हैं, जो JNU कांड के समय अफजल गुरु का फोटो लेकर नारे लगाने वालों के बचाव में अपनी स्क्रीन काली कर रहे थे।
आतंकी हमला

बारामूला में आतंकियों ने एक नागरिक को गोली मारी, CRPF चौकी पर किया हमला

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी लगातार उपद्रव करने के प्रयास कर रहे हैं। शनिवार (मार्च 30, 2019) को आतंकियों ने तीन घटनाओं को अंजाम दिया। शाम 5 बजे लगभग आतंकियों ने बारामूला में एक नागरिक की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकियों ने बारामूला के मुख्य चौक पर इस वारदात को अंजाम दिया। मृतक नागरिक का नाम अर्जुमंद माजिद भट है। एक आम नागरिक की हत्या से हलचल मच गई है। आमतौर पर आतंकी स्थानीय नागरिकों एवं पर्यटकों को निशाना नहीं बनाते हैं। लेकिन, इस घटना ने आतंकियों के बेहद क्रूर चेहरे को उजागर किया है।
कश्मीर समस्या

कश्मीर में स्कूली नाबालिग बच्चों को बनाया जा रहा है स्लीपर सेल: जाँच एजेंसियों का खुलासा

आतंकी संगठन स्कूली बच्चों को नाबालिग होने की वजह से अपना स्लीपर सेल बना रहे हैं। स्कूली बच्चों पर किसी को शक नहीं होगा और ये पकड़े गए तो जुवेनाइल एक्ट में जल्द छूट जाएँगे, इन्हीं वजहों से इन बच्चों को आसान हथियार बनाया जा रहा है।
पुलवामा में सीआरपीएफ के बंकर पर हमला

पुलवामा में CRPF के बंकर पर आतंकियों ने फेंका ग्रेनेड, 1 जवान घायल

हमले घायल हुए सीआरपीएफ जवान को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जवान का नाम सूरजचंद है। वह 182 बटालियन में तैनात थे।
फारुक अब्दुल्ला

मगर वो 40 लोग CRPF के शहीद हो गए… उसपर भी मुझे शक है – फारूक अब्दुल्ला का शर्मनाक बयान

देश के जवानों की मौत और प्रधानमंत्री के कार्यों पर सवाल उठाने वाले फारूक का नाम उन नेताओं की सूची में रह चुका हैं जिन्हें जान का खतरा होने पर सरकार द्वारा जेड प्लस सिक्योरिटी तक मुहैया कराई गई।
बालाकोट आतंकी कैंप

बालाकोट एयर स्ट्राइक का सबूत मिटा, 32 दिन बाद पाकिस्तान ने मीडिया को दिखाया आतंकी कैंप

रक्षा मंत्रालय से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक, पाकिस्तान ने इन 32 दिनों में बालाकोट का हुलिया बदलकर दुनिया को ऐसा दिखाने को कोशिश की है, जैसे कि ये कोई आम मदरसा है।

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

40,759फैंसलाइक करें
7,817फॉलोवर्सफॉलो करें
63,313सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें