Thursday, April 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'मेरे आगे कैटरीना कैफ लगेगी बुजुर्ग': SRK की रेड चिलीज से कार्तिक आर्यन ने...

‘मेरे आगे कैटरीना कैफ लगेगी बुजुर्ग’: SRK की रेड चिलीज से कार्तिक आर्यन ने बनाई दूरी, स्क्रिप्ट और कास्टिंग से थे नाखुश

इस संबंध में अभी न ही रेड चिलीज ने कोई बयान दिया है और न ही कार्तिक ने लेकिन मीडिया में इस मामले पर कई खबर हैं। ये फिल्म अगले महीने शुरू होने वाली थी।

धर्मा प्रोडक्शन्स की ‘दोस्ताना’ फिल्म से बाहर होने के बाद बॉलीवुड कलाकार कार्तिक आर्यन ने अब शाहरुख खान के प्रोडक्शन हाउस रेड चिलीज से भी दूरी बना ली है। इस संबंध में अभी न ही रेड चिलीज ने कोई बयान दिया है और न ही कार्तिक ने लेकिन मीडिया में इस मामले पर कई खबर हैं। ये फिल्म अगले महीने शुरू होने वाली थी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट कहती है कि कार्तिक आर्यन को फिल्म डायरेक्टर अजय बहल से आइडियाज को लेकर मसले थे। वह फिल्म की स्क्रिप्ट को लेकर खुश नहीं थे। रिपोर्ट के अनुसार, ये सब पिछले 15 दिनों में हुआ। कार्तिक ने अपनी दिक्कत बहल को बताई। इसके अलावा उन्हें फिल्म में कैटरीना कैफ को कास्ट करने को लेकर भी समस्या थी। उनका कहना था कि फिल्म एक लव स्टोरी है और फिल्म में कैटरीना कैफ उनके आगे बुजुर्ग (बड़ी) लगेंगी ।

गौरतलब है कि इससे पहले दोस्ताना फिल्म में कार्तिक आर्यन को क्रिएटिव इशूज होने के कारण धर्मा प्रोडक्शन्स ने उन्हें हमेशा के लिए बैन किया था। डीएनए के अनुसार, धर्मा प्रोडक्शन के एक करीबी सूत्र ने उन्हें बताया, “कार्तिक आर्यन को डेढ़ साल बाद ये बात समझ आई कि ‘दोस्ताना 2’ की स्क्रिप्ट में कोई खामी है और वो उसमें बदलाव चाहते हैं। कार्तिक के बर्ताव के मद्देनजर अब धर्मा प्रोडक्शन ने उनके साथ आगे कभी भी काम नहीं करने का फैसला किया है। इससे पहले 2019 में कार्तिक ने इसी स्क्रिप्ट पर फिल्म की 20 दिन की शूटिंग पूरी की थी।”

सूत्र ने बताया कि फिल्म की तारीखों को लेकर एक्टर स्पष्ट नहीं रहते थे, इस वजह से भी उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया। सूत्र के अनुसार “धर्मा प्रोडक्शन के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ था कि एक अभिनेता कुछ दिन तक फिल्म में काम करने के बाद उसे छोड़कर चला जाए। यही कारण है कि प्रोडक्शन हाउस ने भविष्य में कार्तिक के साथ किसी भी प्रोजेक्ट पर काम नहीं करने का निर्णय लिया है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जज ने सुनाया ज्ञानवापी में सर्वे करने का फैसला, उन्हें फिर से धमकियाँ आनी शुरू: इस बार विदेशी नंबरों से आ रही कॉल,...

ज्ञानवापी पर फैसला देने वाले जज को कुछ समय से विदेशों से कॉलें आ रही हैं। उन्होंने इस संबंध में एसएसपी को पत्र लिखकर कंप्लेन की है।

माली और नाई के बेटे जीत रहे पदक, दिहाड़ी मजदूर की बेटी कर रही ओलम्पिक की तैयारी: गोल्ड मेडल जीतने वाले UP के बच्चों...

10 साल से छोटी एक गोल्ड-मेडलिस्ट बच्ची के पिता परचून की दुकान चलाते हैं। वहीं एक अन्य जिम्नास्ट बच्ची के पिता प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe