Wednesday, May 25, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनपहले ही दिन ₹79 करोड़ की कमाई! 'बाहुबली' वाले हीरो ने एक बार फिर...

पहले ही दिन ₹79 करोड़ की कमाई! ‘बाहुबली’ वाले हीरो ने एक बार फिर मनवाया अपना लोहा, तोड़ दिया ‘पुष्पा’ का भी रिकॉर्ड

अक्षय कुमार की हिंदी फिल्म 'सूर्यवंशी' ने पहले दिन 40 करोड़ रुपए के आसपास बटोरे थे। वहीं अल्लू अर्जुन की 'पुष्पा' ने 63 करोड़ रुपए बटोर कर तहलका मचा दिया था।

प्रभास की नई फिल्म ‘राधे श्याम’ ने पहले ही दिन 79 करोड़ रुपए की ओपनिंग लेकर बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया है। कोरोना संक्रमण आपदा के बाद ये भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का सबसे बड़ा नंबर है। इससे पहले अगस्त 2019 में आई प्रभास की फिल्म ‘साहो’ ने ओपनिंग डे पर दुनिया भर में 125 करोड़ रुपए कमाए थे। हालाँकि, ‘राधे श्याम’ ने कोरोना के बाद आई फिल्मों ‘वलिमै’, ‘भीमला नायक’ और ‘सूर्यवंशी’ के रिकॉर्ड्स को ध्वस्त कर दिया है।

इससे पहले आई अन्य फिल्मों की बात करें तो ‘थाला’ अजीत कुमार की तमिल फिल्म ‘वलिमै’ ने 60 करोड़ रुपए कमाए थे, वहीं ‘पॉवर स्टार’ पवन कल्याण की तेलुगु फिल्म ‘भीमला नायक’ ने 61 करोड़ रुपए बटोरे थे। अक्षय कुमार की हिंदी फिल्म ‘सूर्यवंशी’ ने पहले दिन 40 करोड़ रुपए के आसपास बटोरे थे। वहीं अल्लू अर्जुन की ‘पुष्पा’ ने 63 करोड़ रुपए बटोर कर तहलका मचा दिया था। प्रभास ने इन सभी को पीछे छोड़ दिया है।

हालाँकि, प्रभास की फिल्म ‘राधे श्याम’ समीक्षकों के मानकों पर खरी नहीं उतरी है और इसे नकारात्मक रिव्यूज मिले हैं। लोग उनके अभिनय की तो तारीफ़ कर रहे हैं, लेकिन फिल्म की कहानी और स्क्रीनप्ले पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। फिल्म ने भारत में पीला दिन 48 करोड़ रुपए का कारोबार किया है, जो इस सूची में सातवाँ सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। पहले और दूसरे स्थान पर प्रभास की ‘बाहुबली 2 (121 करोड़ रुपए)’ और ‘साहो (88 करोड़ रुपए)’ है।

इधर विवेक अग्निहोत्री की सच्ची घटनाओं पर आधारित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने पहले दिन दुनिया भर में 4.55 करोड़ रुपए का कारोबार कर के चौंका दिया है, जबकि फिल्म को पौने 700 स्क्रीन्स ही मिल पाए थे। फिल्म में इस्लामी कट्टरपथिंयों द्वारा 90 के दशक में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार को दिखाया गया है। वहीं संजय लीला भंसाली निर्देशित आलिया भट्ट की फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ ने अभी 100 करोड़ नेट का आँकड़ा पार कर लिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सिविल ड्रेस में रायफल के साथ घर में घुसे…आतंकियों की तरह घसीटा’: तजिंदर बग्गा ने शेयर किया पंजाब पुलिस का वीडियो

तेजिंदर बग्गा ने जो नया वीडियो शेयर किया है, उसमें रायफल के साथ सिविल ड्रेस में आई पंजाब पुलिस को उन्हें घसीट कर ले जाते हुए देखा जा सकता है।

शिक्षा का गुजरात मॉडल: सूरत के सरकारी स्कूलों में एडमिशन की होड़, लगातार तीसरे साल प्राइवेट स्कूल पीछे

दिल्ली के तथकथित शिक्षा मॉडल का आपने खूब प्रचार सुना होगा। इससे इतर गुजरात के सूरत के सरकारी स्कूलों में एडमिशन के लिए भारी भीड़ दिख रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,731FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe