Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनहिंदू-विरोधी गॉडमैन सीरीज पर लगी लगाम, विरोध के बाद खुद Zee TV ने जारी...

हिंदू-विरोधी गॉडमैन सीरीज पर लगी लगाम, विरोध के बाद खुद Zee TV ने जारी किया बयान

हाल ही में ऑनलाइन सीरीज गॉडमैन का ट्रेलर जारी हुआ, उसमें ब्राह्मणों और हिंदू धर्म का खराब चित्रण किया गया है। ट्रेलर रिलीज होने के बाद सोशल मीडिया पर इसकी खूब आलोचना हुई थी। सोशल मीडिया पर अच्छी पकड़ रखने वाले कई यूजर्स ने इस फिल्म को एंटी हिंदू फिल्म करार दिया था। साथ ही कहा था कि...

विवादित तमिल सीरीज गॉडमैन को लेकर जी टीवी के मालिक सुभाष चंद्रा ने स्वयं भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी को आश्वस्त किया है कि वह अपने चैनल जी5 पर इस सीरीज को टेलीकास्ट नहीं होने देंगे। इस सीरीज के ख़िलाफ़ इससे पहले स्वामी के संगठन ‘विराट हिंदुस्तान’ ने विरोध प्रदर्शन किया था। ‘विराट हिंदुस्तान’ का संयोजन पूर्व आईएएस अधिकारी व स्वामी की विश्वासपात्रा चंद्रलेखा करती हैं।

द हंस इंडिया के अनुसार, चंद्रलेखा ने बताया कि जब उन्होंने गॉडमैन सीरीज से संबंधी ऐसे प्रोमो आदि देखे, जिनमें हिंदू धर्म का अपमान था, तो वह फौरन उस पर एक्शन लेकर उसे रोकना चाहती थीं। मगर, इसके बाद सुब्रम्ण्यम स्वामी ने खुद इस मामले पर संज्ञान लिया और त्वरित कार्यवाई करते हुए इस विषय पर जी चैनल के मालिक सुभाष चंद्रा से फोन पर संपर्क किया।

इस बातचीत में भाजपा नेता ने सुभाष चंद्रा से गॉडमैन को जी5 पर ऑन एयर न करने की अपील की, जिसके बाद सुभाष चंद्रा ने उन्हें आश्वस्त किया कि ये सीरीज उनके चैनल पर टेलीकास्ट नहीं होगी।

बाद में जी5 ने भी अपनी ओर से आधिकारिक बयान जारी कर दिया। जिसमें लिखा कि प्रतिक्रियाओं के आधार पर उन्होंने अपनी नई तमिल फिक्शन गॉडमैन को सस्पेंड कर दिया है। जारी बयान में कहा गया कि निर्माताओं, शो का और जी5 का ऐसा कोई उद्देश्य नहीं है कि वो किसी की धार्मिक, सामुदायिक या निजी भावनाओं को आहत करें।

गौरतलब है कि इससे पहले कोयम्बटूर जिले के अंधनार मुरपोकु कषगम ने पुलिस अधीक्षक सुजीत कुमार से शिकायत की थी। साथ ही कहा था कि वह गॉडमैन के निर्देशक और मीडिया चैनल के ख़िलाफ़ ट्रेलर प्रसारित करने के आरोप में कार्रवाई करें। एसपी को लिखे पत्र में कहा गया था कि हाल ही में ऑनलाइन सीरीज गॉडमैन का ट्रेलर जारी हुआ, उसमें ब्राह्मणों और हिंदू धर्म का खराब चित्रण किया गया है।

उन्होंने आरोप लगाया था कि ट्रेलर स्पष्ट रूप से समाज के एक वर्ग की भावनाओं को आहत करने और लोगों को धर्म के आधार पर भेदभाव करने के इरादे से बनाया गया है, ताकि समाज में शांति को बाधित किया जा सके।

यहाँ बता दें कि इस सीरीज का ट्रेलर रिलीज होने के बाद सोशल मीडिया पर इसकी खूब आलोचना हुई थी। सोशल मीडिया पर अच्छी पकड़ रखने वाले कई यूजर्स ने इस फिल्म को एंटी हिंदू फिल्म करार दिया था। साथ ही कहा था कि ये केवल हिंदुत्व और हिंदुओं को बदनाम करने के लिहाज से बनाई गई है। इसमें डेनियल बालाजी अभिनेता है और इसे मिशनरी समूहों द्वारा प्रमोट किया जा रहा है।

इसके अलावा इस फिल्म की पूरी स्टार कास्ट जयाप्रकाश, सोनिया अग्रवाल, डेनियल बालाजी पर भी स्पष्ट रूप से हिंदुओं को बदनाम करने की मंशा रखने का आरोप लगा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,514FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe