Tuesday, June 25, 2024
Homeविविध विषयअन्यमुंबई में भारी बारिश के कारण 22 लोगों की मौत, ट्रेन बंद: 11 घर...

मुंबई में भारी बारिश के कारण 22 लोगों की मौत, ट्रेन बंद: 11 घर तबाह, 13 जगह शॉर्ट-सर्किट

भारतीय मौसम विभाग ने मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए रेड अलर्ट जारी किया था। 200+ मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। बारिश कम होने के कोई आसार नहीं... क्योंकि 'भारी से भारी बारिश' की चेतावनी IMD ने फिर की जारी।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई एक बार फिर मूसलाधार बारिश के कारण अस्त-व्यस्त नजर आ रही है। लगातार हो रही बारिश के कारण 3 अलग-अलग घटनाओं में मुंबई में 22 लोगों की मौत (खबर लिखे जाने तक की जानकारी के अनुसार) हो गई।

बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) के द्वारा प्राप्त प्रारम्भिक जानकारी के अनुसार पहला हादसा रविवार (18 जुलाई 2021) को हुआ। रात 1 बजे के लगभग चेंबूर के वाशीनाका इलाके के न्यू भारत नगर में हुई। यहाँ भारी बारिश के कारण एक पेड़ पास ही स्थित घर की दीवार पर गिर गया, जिसके कारण दीवार भी धराशायी हो गई। दीवार गिरने के कारण कई लोग इसके नीचे दब गए। इस घटना में 14 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हुए हैं। सूचना मिलने तक चेंबूर में 16 लोगों का रेस्क्यू कर लिया गया था।

दूसरी घटना विक्रोली इलाके के सूर्य नगर में हुई। यहाँ रात के लगभग 2:40 बजे भारी बारिश के चलते जमीन खिसक गई, जिसके कारण एक दो मंजिला इमारत ढह गई। हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्य घायल हो गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एनडीआरएफ के डेप्युटी कमांडेंट आशीष कुमार ने जानकारी दी कि अभी भी 5-6 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। अंधेरी वेस्ट इलाके में एक व्यक्ति की मौत बिजली के झटके के कारण हो गई।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए रेड अलर्ट जारी किया था। पिछले कुछ घंटों में ही मुंबई में 200 मिलीमीटर से अधिक बारिश हो चुकी है। इस भीषण बारिश के चलते मुंबई के कई इलाकों में पानी भर गया, जिसके चलते परिवहन में समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

रेलवे ट्रैक पर पानी भर जाने के कारण मुंबई की उपनगरीय ट्रेन सेवा को बंद करना पड़ा। हालाँकि अभी भी मुंबई में बारिश कम होने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं क्योंकि IMD ने मुंबई के कई इलाकों में ‘भारी से भारी बारिश’ की चेतावनी जारी की है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -