Wednesday, April 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यआधा चेहरा पैरालाइज, आँख झपका नहीं सकते... वायरस ने जस्टिन बीबर का ये कैसा...

आधा चेहरा पैरालाइज, आँख झपका नहीं सकते… वायरस ने जस्टिन बीबर का ये कैसा हाल किया: Video शेयर कर कहा- यह नसों पर अटैक कर रहा

“इस समय मैं स्टेज पर परफॉर्म नहीं कर सकता, क्योंकि मेरा शरीर काम नहीं कर रहा है। यह वायरस बेहद गंभीर है, जैसा कि आप मेरे शरीर को देख सकते हैं। डॉक्टर्स ने भी मुझे पूरी तरह से आराम करने के लिए कहा है।"

फेमस पॉप सिंगर जस्टिन बीबर (Justin Bieber) को रामसे हंट सिंड्रोम ( Ramsay Hunt Syndrome) नाम की एक दुर्लभ बीमारी हो गई है। इसके चलते उनका आधा चेहरा पैरालाइज हो गया है। बीबर ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट कर इसकी जानकारी दी है। बताया है कि वे अपने कॉन्सर्ट के शो कैंसिल कर रहे हैं। कुछ दिनों की छुट्टी ले रहे हैं, ताकि खुद को आराम दे सकें।

वीडियो में जस्टिन बीबर ने बताया है कि एक वायरस की वजह से उन्हें यह खतरनाक बीमारी हुई है। यह वायरस बेहद खतरनाक है और उनके चेहरे की नसों पर लगातार अटैक कर रहा है। इसकी वजह से उनका आधा चेहरा पैरालाइज हो गया है।

जस्टिन बीबर ने इस वीडियो में बताया है वे एक तरफ की आँख झपका नहीं सकते हैं। एक साइड से स्माइल भी नहीं कर पा रहे हैं और उनकी नाक भी नहीं हिल रही है। बताया जा रहा है कि शो कैंसिल की वजह बीबर के फैंस नाराज थे। इसके कारण उन्हें यह वीडियो जारी करना पड़ा है।

इस वीडियो में वह कहते हैं, “इस समय मैं स्टेज पर परफॉर्म नहीं कर सकता, क्योंकि मेरा शरीर काम नहीं कर रहा है। यह वायरस बेहद गंभीर है, जैसा कि आप मेरे शरीर को देख सकते हैं। डॉक्टर्स ने भी मुझे पूरी तरह से आराम करने के लिए कहा है। मैं उम्मीद कर रहा हूँ कि आप लोग समझेंगे और मैं यह समय आराम करने और रिलैक्स करने में लगाने वाला हूँ, ताकि मैं 100 प्रतिशत ठीक होकर वापस लौटूँ और वो करूँ, जो करने के लिए मैं पैदा हुआ हूँ।” बीबर एल्बम ‘जस्टिस’ के प्रमोशन के लिए दुनिया के कई देशों का दौरा करने निकलने वाले थे। इस बार वे भारत भी आने वाले थे।

जस्टिन बीबर के इस वीडियो के सामने आते ही फैंस सोशल मीडिया पर यूजर्स कमेंट कर उनके जल्दी ठीक होने की दुआ कर रहे हैं। बता दें कि इस साल मार्च में, जस्टिन बीबर की पत्नी, हैली को उनके मस्तिष्क में रक्त के थक्के जमने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

क्या है रामसे हंट सिंड्रोम ? 

रामसे हंट सिंड्रोम एक न्यूरोलॉजिकल बीमारी है, जिसमें कान के चारों ओर त्वचा पर चकते के साथ ही चेहरे की पैरालिसिस, कान दर्द और अन्य लक्षण दिखाई देते हैं। यह वैरिकाला-ज़ोस्टर वायरस द्वारा चेहरे की तंत्रिका के एक क्षेत्र के संक्रमण से जुड़ा हुआ है। रामसे हंट सिंड्रोम वैरिकाला जोस्टर वायरस (वीजेडवी) के कारण होता है। यह वही वायरस है, जो बच्चों में चिकनपॉक्स और वयस्कों में दाद का कारण बनता है। रामसे हंट सिंड्रोम उन लोगों में होता है जिन्हें चिकनपॉक्स हुआ हो। एक बार जब आप चिकनपॉक्स से ठीक हो जाते हैं, तो वायरस आपके शरीर में रहता है और कभी-कभी बाद के कई वर्षों के बाद फिर से सक्रिय होकर दाद, द्रव से भरे फफोले के साथ एक दर्दनाक दाने का कारण बनता है।

कौन हैं जस्टिन बीबर?

जस्टिन बीबर कनाडा के पॉप सिंगर हैं। उनका जन्म 1 मार्च, 1994 को हुआ था। 28 साल के जस्टिन सिंगर होने के साथ ही गाना भी लिखते हैं। बता दें कि जस्टिन ने महज 12 साल की उम्र में गाना शुरू कर दिया था। बेटे का टैलेंट देखकर उनकी माँ ने वीडियो यूट्यूब पर अपलोड कर दिए। धीरे-धीरे लोग उन्हें पसंद करने लगे और वो देखते ही देखते इंटरनेशनल स्टार बन गए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe