Friday, July 1, 2022
Homeविविध विषयअन्य'नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती': हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत...

‘नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती’: हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत महिला ने दुनिया को बताई

लड़की ने अपनी पहचान तारा बताते हुए कहा कि संजय राजौरा ने उसके मना करने के बावजूद भी उसे ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती की, वो भी सार्वजनिक स्थल पर।

20 साल के आसपास उम्र वाली एक लड़की ने कॉमेडियन संजय राजौरा पर यौन उत्पीड़न का आरोप मढ़ा है। महिला ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए राजौरा पर इल्जाम लगाए। कॉमेडियन इस समय कॉमेडी कलेक्टिव ‘ऐसी तैसी डेमोक्रेसी’ का सदस्य है।’

23 सितंबर को लड़की ने अपनी पहचान तारा बताते हुए राजौरा के विरुद्ध पोस्ट लिखा। उसने बताया कि कैसे राजौरा ने मना करने के बाद भी उसे ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती की, वो भी सार्वजनिक स्थल पर। लड़की ने बताया कि राजौरा उसे नग्न तस्वीरें माँगता था। 

पोस्ट के स्क्रीनशॉट

पीड़िता ने बताया कि वो इन सब चीजों को नजरअंदाज कर रही थी क्योंकि वह कॉमेडियन को उसके काम के लिए सराहती थी। लड़की मानती है कि कॉमेडियन की पब्लिक छवि ने उसके फैसले को प्रभावित किया था। उसको लगता था कि राजौरा तो कई प्रभावशाली लोगों को जानता है। 

पोस्ट के स्क्रीनशॉट

पोस्ट में पीड़िता इस बात को बताती है कि वह अपने साथ होते शोषण को नजरअंदाज करती रही क्योंकि वह राजौरा को एक नारीवादी पुरुष के तौर पर देखती थी। लड़की ने बताया कि राजौरा उसे “असुरक्षित (Unsafe)” और नग्न तस्वीरें भेजने के लिए कहता था। उसके मुताबिक, “मैंने उन्हें कहा भी कि ये बहुत जल्दी है और बहाने बनाकर अपनी हिचक दर्शायी, लेकिन वह लगातार ऐसा कर रहे थे और मेरे बहाने में खामियाँ ढूँढ देते थे।”

पीड़िता ने खुलासा किया कि कैसे कॉमेडियन ने उसे सार्वजनिक स्थान पर ओरल सेक्स करने के लिए मजबूर किया। तारा ने लिखा, “उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रखा और मुझे घुटनों पर बैठा कर मुझे एक्ट (ओरल सेक्स) करने के लिए गाइड किया।”

पोस्ट के स्क्रीनशॉट

तारा ने आगे बताया कि इस घटना के अगले दिन राजौरा अपनी कार को पार्किंग से बाहर निकालते समय अपने भवन के गेट पर किसी ऐसे व्यक्ति से मिला, जिससे वह पेशेवर रूप से जुड़ा था। लड़की के मुताबिक राजौरा ने बेहद अजीब ढंग से हाथ मिलाया और चेहरे पर शरारती मुस्कान थी। उसका मिलना और बात कहना (You’re man has been having fun with this young lady) ऐसा था जैसे कह रहा हो, “आज मैं करके आया हूँ।”

पोस्ट के स्क्रीनशॉट

पीड़िता कहती है कि घटना के बाद भी उसने राजौरा से मिलना और बात करना नहीं छोड़ा था। उसे बहुत महीने लगे ये दर्दनाक एहसास होने में कि जो कुछ भी दोनों के बीच हुआ वो घातक, प्रबल और समस्याग्रस्त था। उसने बताया कि वह राजौरा के प्रभाव और ताकत को देख इतना डरती थी कि वह इन सबसे बाहर नहीं निकल पा रही थी।

लड़की लिखती हैं, “मैं अब ये सब क्यों लिख रही हूँ? ये मैं अपने लिए कर रही हूँ ताकि जो भार मैंने लंबे समय से झेला है उसे कम किया जा सके। ये जिम्मा मेरे ऊपर है कि दुनिया को अपना अनुभव से मना पाऊँ, इसलिए मैं कोई प्रूफ नहीं लगा रही। मैं ये सब समाप्त करने के लिए कर रही हूँ।”

पोस्ट के स्क्रीनशॉट

अपने पोस्ट के आखिर में उसने लिखा, “मैंने जिन उदाहरणों का उल्लेख किया है, वे मेरे दर्दनाक अनुभव के चट्टान के सिरे मात्र हैं। कई बार ब्रेकडाउन और एंग्जाइटी अटैक आने के बाद से मैंने अपने सभी दोस्तों को खो दिया है। जिन चीज़ों से मैं गुज़री, उसने मेरी माँ को लगभग पागलपन की हद तक पहुँचा दिया। इस समय औपचारिक शिकायत शुरू करने के लिए मेरे पास भावनात्मक मजबूती नहीं है। मैं एक बेहतर जीवन की ओर बढ़ना चाहता हूँ, यह यहीं समाप्त होता है।”

बता दें कि राजौरा ने अभी इन आरोपों की बाबत कोई बयान नहीं दिया है। मगर, इससे पहले वो हिंदू देवी देवताओं का मखौल उड़ाने के कारण चर्चा में आया था। राजौरा ने भगवान गणेश और भगवान शिव पर टिप्पणी की थी। इसके बाद रमेश सोलंकी की शिकायत पर उसके विरुद्ध शिकायत दर्ज हुई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,269FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe