Thursday, July 29, 2021
Homeविविध विषयअन्यBigg Boss एक्ट्रेस ने 80000 लोगों की मदद करने वाली सुषमा स्वराज पर की...

Bigg Boss एक्ट्रेस ने 80000 लोगों की मदद करने वाली सुषमा स्वराज पर की अभद्र टिप्पणी

इससे पहले वीना अनुच्छेद 370 के निष्प्रभावी होने पर भी भारत के प्रति अपनी कुंठा निकाल चुकी है और अब सुषमा स्वराज की मृत्य पर ठिठोली करने की कोशिश की।

सिर्फ़ ट्विटर के जरिए 80,000 से ज्यादा लोगों की मदद करने वाली सुषमा स्वराज आज हम सबके बीच नहीं हैं। कोई आज उन्हें सशक्त राजनेत्री के रूप में याद कर रहा है तो कोई माँ के रूप में। सुषमा स्वराज ने अपने कार्यकाल धर्म-जाति-पंथ-देश-विदेश जैसे दायरों से उठकर लोगों की मदद की। उन्होंने उन लोगों पर ध्यान दिया जो सालों से मदद की गुहार लगाए बैठे थे लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही थी।

पाकिस्तानी बच्चे रोहान के ईलाज से लेकर गलती या धोखे से पाकिस्तान पहुँची हिंदुस्तानी लड़कियाँ गीता और उज्मा की वापसी इसके बड़े उदहारण हैं। जानकारी के मुताबिक पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 15 से ज्यादा पाकिस्तानियों के 2017 तक मेडिकल वीज़ा दिलाया लेकिन अफसोस की बात है कि उनके देह त्यागने के बाद आज पाकिस्तानी उनके किए एहसानों को भुलाकर उनके जाने की खुशी मना रहे हैं। जिसमें एक नाम वीना मलिक का भी शामिल है।

वीना मलिक ने अपने ट्विटर पर सुषमा स्वराज के लिए न केवल अभद्र टिप्पणी है बल्कि इस बात का भी सबूत दिया है कि वो भारत और उसके राजनेताओं के बारे में कैसी सोच रखती है। उसने सुषमा स्वराज के जाने के बाद R.I.H लिखा और साथ में एक आग वाली ईमोजी भी लगाई। अब इस ‘R.I.H’ का  मतलब ‘आपको स्वर्ग मिले’ या ‘आपको नर्क मिले’ दोनों हो सकता था, लेकिन चूँकि वीना ने उसके संदेश के साथ आग वाली ईमोजी लगाई तो उसे देखकर सोशल मीडिया यूजर्स उसकी ओछी हरकत भाँप गए और उसे आड़े हाथों ले लिया। सोशल मीडिया पर अपनी हरकत के कारण लोगों ने उसे खूब ट्रोल किया।

अधिकतर लोगों ने बिग बॉस में हुए अश्मित पटेल वाले किस्से पर मीम बना बनाकर उसे ट्रोल किया। जबकि गीता स्वामी नाम की यूजर ने लिखा, “ऐसे ही पाकिस्तानी सुषमा स्वराज जी के निधन पर प्रतिक्रिया देते हैंl जोकि एक अच्छी नेता थी और इंसानियत को प्रधानता देती थीl शायद वह हाफिज सईद को मानते हैंl”

जबकि दूसरे यूजर ने उन्हें अश्मित पटेल की चड्डी धोने वाली औरत बताया। और स्क्रीनशॉट के साथ दिखाया कि उसमें और सुषमा स्वराज में क्या अंतर है। एक ओर सुषमा स्वराज लोगों की मदद करती थी और दूसरी ओर वीना उनकी मृत्यु पर उन्हें नर्क में जलने वाले इशारे कर रही है।

कुछ ने डॉन न्यूजपेपर के स्क्रीनशॉट दिखाए, जिसमें लिखा था कि पाकिस्तान में करीब 50 मिलियन लोग कॉमन मेंटल डिसऑर्डर से जूझ रहे हैं। जिसमें 15 से 35 मिलियन व्यस्क है। इसलिए वो समझ सकते हैं कि पाकिस्तान में हर चौथा आदमी (आम बातचीत में पागल कह सकते हैं आप) है। मतलब वीना की बातों का कोई औचित्य नहीं है, पाकिस्तान में ये सब आम है।

गौरतलब है कि इससे पहले वीना मलिक अनुच्छेद 370 के निष्प्रभावी होने पर भी भारत के प्रति अपनी कुंठा निकाल चुकी है और अब सुषमा स्वराज की मृत्य पर ठिठोली करने की कोशिश की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,735FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe