Wednesday, May 22, 2024
Homeविविध विषयअन्यभगवा रंग, माथे पर टीका, गले में हनुमान माला: RRR की सफलता के बाद...

भगवा रंग, माथे पर टीका, गले में हनुमान माला: RRR की सफलता के बाद जूनियर NTR ने भी ली दीक्षा, 21 दिन जिएँगे सात्विक जीवन

जूनियर एनटीआर की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल है। इसमें वह नीचे तक भगवा रंग में है। उनके माथे पर टीका है। गले में माला है। चेहरे पर हँसी है।

RRR फेम राम चरण के बाद अब इसी फिल्म के दूसरे स्टार जूनियर NTR भी धर्म के प्रति अपनी आस्था के कारण चर्चा बटोर रहे हैं। हाल में एनटीआर को हनुमान जन्मोत्सव के मौके पर भगवा कपड़े पहने और माथे पर टीका लगाए देखा गया। बताया जा रहा है कि जैसे राम चरण ने अयप्पा दीक्षा ली थी वैसे ही NTR ने हनुमान दीक्षा ली है। ये 41 दिन की न होकर, 21 दिन की होती है, मगर इसमें भी सात्विक भोजन किया जाता है और सादा जीवन व्यतीत किया जाता है।

उनकी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल है। इसमें वह ऊपर से लेकर नीचे तक भगवा रंग में है। उनके माथे पर हनुमान जी का टीका है। गले में माला है। चेहरे पर हँसी है। लोग इन तस्वीरों को देख कह रहे हैं कि साउथ एक्टर्स हमेशा भारतीय संस्कृति और परंपरा का सम्मान करते हैं। ये लोग बॉलीवुड वालों की तरह नहीं है। बॉलीवुड कलाकारों को इन्हें आदर्श मानकर सीखना चाहिए।

बता दें कि आरआरआर की अपार सफलता के बाद अब जूनियर एनटीआर कोरताला सिवा में नजर आएँगे। इसके अलावा केजीएफ निर्माता की नई फिल्म सलार में भी वही हीरो के तौर पर दिखेंगे। फिलहाल इस समय उन्हें और राम चरण को RRR के लिए जगह-जगह से सरहाना मिल रही है।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले राम चरण भी अपनी धार्मिक पोशाक पहने और नंगे पैर दिखने के कारण मीडिया लाइट में आए थे। बाद में पता चला था कि राम चरण भगवान अयप्पा स्वामी का 41 दिन का महाव्रत कर रहे हैं जो कि यह दक्ष‍िण भारत की एक परंपरा है, जिसे अयप्‍पा दीक्षा (Ram Charan Ayyappa Deeksha) कहते हैं। यह 41 दिनों तक चलती है। इसमें 41 दिनों तक न चप्‍पल पहनते हैं और ना ही नॉनवेज खाते हैं। जमीन पर सोते हैं और ब्रह्मचर्य का पालन करते हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, राम चरण हर साल यह महाव्रत करते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -