Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजकपड़े उतार कर फिलिस्तीन के समर्थन नारेबाजी, रोकने पर सिक्योरिटी स्टाफ का सिर फोड़ा:...

कपड़े उतार कर फिलिस्तीन के समर्थन नारेबाजी, रोकने पर सिक्योरिटी स्टाफ का सिर फोड़ा: गुजरात के वॉटर पार्क में हिंसा के बाद 15 हिरासत में, बाकी की तलाश जारी

फिलिस्तीन के झंडे वाली टी-शर्ट पहन कर 2 युवक अंदर आए। उन्होंने जोर-जोर से 'फिलिस्तीन जिंदाबाद' और अन्य मज़हबी नारे लगाने शुरू कर दिए। थोड़ी देर में दोनों युवकों ने टी-शर्ट उतार कर हाथ में ले कर लहराना शुरू कर दिया।

गुजरात के सूरत शहर में फिलिस्तीन के समर्थन में नारेबाजी का मामला सामने आया है। यह नारेबाजी एक वॉटर पार्क में तब की गई जब वहाँ बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। नारेबाजी कर रही भीड़ को जब सिक्योरिटी स्टाफ ने रोकने की कोशिश की तब उन्हें भी पीट-पीट कर घायल कर दिया गया। मामले में FIR दर्ज कर के पुलिस ने 15 आरोपितों को हिरासत में लिया है। CCTV फुटेज के आधार पर अन्य संदिग्धों की तलाश की जा रही है। घटना शनिवार (13 अप्रैल, 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना सूरत शहर के थाना क्षेत्र पूना की है। यहाँ ‘इमैजिका वॉटर पार्क’ स्थित है जिसमें शनिवार को बड़ी संख्या में लोग घूमने-फिरने आए थे। इस दौरान फिलिस्तीन के झंडे वाली टी-शर्ट पहन कर 2 युवक अंदर आए। उन्होंने जोर-जोर से ‘फिलिस्तीन जिंदाबाद’ के नारे लगाने शुरू कर दिए। थोड़ी देर में दोनों युवकों ने टी-शर्ट उतार कर हाथ में ले कर लहराना शुरू कर दिया। आरोप यह भी है कि सभी युवक वाटर पार्क के प्रतिबंधित क्षेत्र में घुसना चाहते थे। इस हरकत से पार्क में मौजूद लोगों में अफरा-तफरी का माहौल बन गया।

वॉटर पार्क में मौजूद सुरक्षा गार्डों ने जब यह हरकत देखी तो वो रोकने के लिए आगे बढ़े। इस दौरान दोनों युवकों की सिक्योरिटी गार्डों से बहस हो गई। आरोप है कि इस दौरान लगभग 1 दर्जन अन्य युवक गार्डों की तरफ दौड़ पड़े। इन सभी ने मिल कर सिक्योरिटी अफसर मेहुल देसाई की पिटाई कर दी। मेहुल देसाई के सिर में चोटें आई हैं। उनको बचाने आए दूसरे सुरक्षाकर्मी को भी हमलावरों ने पीटा जिसके हाथ में घाव हो गया। हंगामे की सूचना पुलिस को दी गई।

घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने लगभग 15 लोगों को हिरासत में लिया है। इन सभी को थाने लाया गया। कुछ अन्य हमलावर फरार हो गए थे जिनकी CCTV फुटेज के आधार पर तलाश की जा रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज कर के कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -