Wednesday, July 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपंजाब यूनिवर्सिटी में होली देख मुस्लिम भीड़ ने छात्रों पर किया हमला, सुरक्षाकर्मियों ने...

पंजाब यूनिवर्सिटी में होली देख मुस्लिम भीड़ ने छात्रों पर किया हमला, सुरक्षाकर्मियों ने भी पीड़ितों को ही पीटा: लाहौर की घटना, हिन्दू बोले- हम सेफ नहीं

लाहौर स्थित पंजाब यूनिवर्सिटी में होली खेल रहे हिन्दू छात्रों पर हमले की खबर है। यह हमला इस्लामी जमीयत तुलबा (IJT) नाम के एक कट्टरपंथी संगठन ने किया है। इस हमले में 15 छात्रों के घायल होने की सूचना है।

पाकिस्तान के लाहौर स्थित पंजाब यूनिवर्सिटी में होली खेल रहे हिन्दू छात्रों पर हमले की खबर है। यह हमला इस्लामी जमीयत तुलबा (IJT) नाम के एक कट्टरपंथी संगठन ने किया है। इस हमले में 15 छात्रों के घायल होने की सूचना है। पीड़ित छात्रों ने दावा किया है कि उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन से इस आयोजन की अनुमति ले रखी थी। आरोप है कि यूनिवर्सिटी के गार्डों ने भी हमलावरों का पक्ष लिया। इस मामले में अभी तक कोई FIR दर्ज नहीं हुई है। घटना सोमवार (6 मार्च 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिंध काउंसिल के महासचिव कासिफ ब्रोही ने भी हिन्दू छात्रों द्वारा कार्यक्रम की अनुमति लेने की पुष्टि की है। उनका कहना है कि इसी कार्यक्रम के दौरान इस्लामी जमीयत तुलबा के सदस्य यूनिवर्सिटी कैम्पस में पहुँच गए। माना जा रहा है कि इस कट्टरपंथी समूह को यूनिवर्सिटी में हो रहे आयोजन की जानकारी हिन्दू छात्रों द्वारा फेसबुक पर की गई पोस्ट से मिली थी। तब उन्होंने सोशल मीडिया पर ही हिन्दू छात्रों को धमकाया भी था। इस घटना के वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

घटना के दिन सोमवार को कार्यक्रम के दौरान ही IJT के सदस्य विश्वविद्यालय कैम्पस में पहुँच गए। उन्होंने वहाँ पहुँचते ही हिन्दू छात्रों को धमकियाँ देना शुरू कर दिया। कुछ ही देर बाद हाथापाई शुरू हो गई। होली के इस कार्यक्रम के दौरान लगभग 30 हिन्दू छात्र मौजूद थे। हमलावरों के हाथों में बंदूकें और डंडे होने का दावा किया जा रहा है। आरोप है कि हमलावरों ने अपने हाथों में कुरान ले रखी थी। इस दौरान मची अफरातफरी में होली का कार्यक्रम रद्द हो गया। इस घटना के विरोध में जब हिन्दू छात्र यूनिवर्सिटी के कुलपति के ऑफिस में विरोध दर्ज करवाने पहुँचे तब वहाँ मौजूद गार्डों ने भी उन्हें डंडों से पीटा।

एक अन्य वीडियो में एक छात्र ने खुद को पत्थर मारे जाने का आरोप लगया है। वहीं दूसरे छात्र का कहना है कि वो यूनिवर्सिटी में सुरक्षित नहीं हैं। प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने हाथों में कागज ले रखे हैं। उन्हें ‘सेव माइनॉरिटी’ के नारे लगाते सुना जा सकता है। इसके अलावा वह ये भी कहते हैं कि उनके पास कोई भी आजादी नहीं है, उन्हें होली खेलने पर पत्थर मारा जा रहा है।

आरोप यह भी है कि यूनिवर्सिटी के सुरक्षा गार्ड 4 से 5 हिन्दू छात्रों को अपने साथ गाड़ी में भर कर ले गए। इस मारपीट के चलते पीड़ित छात्र अपनी शिकायत भी नहीं दर्ज करवा पाए। पाकिस्तान के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि इस हमले में लगभग 15 छात्र घायल हुए हैं जिनका इलाज करवाया जा रहा है। इसमें से कुछ छात्रों के नाम बिशन लाल, विजय कुमार, विशाल कुमार हैं। उन्होंने बताया कि आरोपितों पर कार्रवाई की जाएगी। हालाँकि अभी तक किसी ठोस कार्रवाई या गिरफ्तारी की कोई जानकारी नहीं है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -