Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजपढ़ाई के लिए बार-बार बोलती थी माँ, 15 साल की बेटी ने बेल्ट से...

पढ़ाई के लिए बार-बार बोलती थी माँ, 15 साल की बेटी ने बेल्ट से गला घोंट मार डाला

माँ-बेटी के बीच पढ़ाई के कारण बहुत झगड़ा होता था। इसे लेकर लड़की ने पिछले माह पुलिस में शिकायत भी दी थी। पुलिस ने उस समय पूरे परिवार को समझाया था। मगर, 30 जुलाई को खबर आई कि लड़की की माँ मर गई है।

महाराष्ट्र के नवी मुंबई में एक 15 साल की नाबालिग लड़की ने पढ़ाई पर हुई बहस के बाद अपनी माँ का कराटे की बेल्ट से गला घोंट दिया। पुलिस का कहना है कि लड़की ने शुरू में इसे आक्समिक मौत का मामला बताया। हालाँकि फॉरेंसिक जाँच में पता चला कि महिला की मौत गला दबाए जाने से हुई थी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूरी घटना 30 जुलाई 2021 को नवी मुंबई के एरोली इलाके की है। रबाले पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी का कहना है कि लड़की और उसकी 40 वर्षीय माँ के बीच अक्सर झगड़े होते थे। महिला चाहती थी कि उसकी बेटी मेडिकल का कोर्स करे, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया।

धीरे-धीरे दोनों के बीच पढ़ाई के कारण विवाद इतना बढ़ गया था कि लड़की ने माँ के ख़िलाफ़ पिछले महीने शिकायत भी की थी। इसके बाद पुलिस ने कथिततौर पर परिवार के सदस्यों की काउंसलिंग की। मगर, 30 जुलाई को लड़की ने जानकारी दी कि उसकी माँ गिरकर मर गई हैं। पुलिस ने जानकारी मिलने के बाद शव को फॉरेंसिंक जाँच के लिए भेजा, जहाँ रिपोर्ट्स में साफ आया कि मौत गला दबाए जाने से हुई है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, अधिकारी ने बताया कि लड़की से जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने ही अपनी माँ का पढ़ाई के ऊपर हुई लड़ाई के बाद कराटे बेल्ट से गला घोंट दिया था। पुलिस के मुताबिक लड़की को सोमवार को हिरासत में ले लिया गया है और उसके ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आरोपित लड़की ने बताया कि उसकी माँ दिन-रात उसे पढ़ाई के लिए टॉर्चर किया करती थी। लेकिन उसका पढ़ाई में मन नहीं लगता था। वह बहुत असहज महसूस करती थी। घटना वाले दिन जब दोनों के बीच झगड़ा हुआ तो उसने गुस्से में माँ को मारा। उसके मुताबिक, उसकी माँ भी उसे मारने के लिए चाकू लाई थी। हालाँकि उसने खुद को बचा लिया। फिर माँ ने बेल्ट उठा ली, जिसे कुछ देर में लड़की ने छीना और उससे माँ की हत्या कर दी। घटना के समय सिर्फ दोनों ही घर पर थे।

बता दें कि इस मामले की सूचना पुलिस को कैसे मिली, इसे लेकर रिपोर्ट्स में अलग-अलग जानकारी है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, मृतक के भाई ने पुलिस को फोन पर बताया था कि वह काफी देर से घर की बेल बजा रहा है लेकिन किसी ने दरवाजा नहीं खोला। बहुत देर बाहर खड़े रहने पर उसको शक हो रहा है। भाई की शिकायत के बाद जब पुलिस उनके घर पहुँची तब भी किसी ने दरवाजा नहीं खोला। जब बल का प्रयोग करके दरवाजा तोड़ा गया तो महिला सामने पड़ी थी और उसके गले पर कराटे वाला बेल्ट बंधा था। दूसरे कमरे में जब पुलिस पहुँची तो बेटी सो रही थी। पुलिस ने जानकारी ली तो उसने बातों को घुमाया, मगर बाद में सारा अपराध कबूल लिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर में फिर से 370 बहाल करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, कहा- फैसला सही था: CJI की बेंच ने पुनर्विचार याचिकाओं को किया...

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर दिए गए निर्णय को लेकर दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया।

‘दिखाता खुद को सेकुलर है, पर है कट्टर इस्लामी’ : हिंदू पीड़िता ने बताया आकिब मीर ने कैसे फँसाया निकाह के जाल में, ठगे...

पीड़िता ने ऑपइंडिया को बताया कि आकिब खुद को सेकुलर दिखाता है, लेकिन असल में वो है इस्लामवादी। उसने महिला से कहा हुआ था वह हिंदू देवताओं को न पूजे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -