Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजअदनान ने साथियों संग मिल नितेश को मार डाला, परिजन बोले- RSS से जुड़ने...

अदनान ने साथियों संग मिल नितेश को मार डाला, परिजन बोले- RSS से जुड़ने के कारण बनाया निशाना, मस्जिद से आए थे बदमाश: पुलिस ने नकारा कम्युनल एंगल

नितेश के परिजनों का कहना है कि उनका बेटा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और बजरंग दल (Bajarang Dal) से जुड़ा हुआ था और हिंदुत्व के मसले को लेकर वह खुलकर अपनी राय जाहिर करता था। इसके कारण वह कई लोगों के निशाने पर था। इसीलिए झगड़े की आड़ में उसकी हत्या कर दी गई।

देश की राजधानी दिल्ली के बलजीत नगर में उफीजा ने अपने दोस्त अदनान और अब्बास के साथ मिलकर नितेश को सरेआम पीट-पीट कर हत्या कर दी। इसके बाद तीनों आरोपित फरार हो गए हैं। इस घटना के 5-6 बीत जाने के बाद भी पुलिस की निष्क्रियता पर लोगों में उबाल आ गया है। स्थानीय लोग सड़कों पर उतर आए हैं और अपराधियों को फाँसी देने की माँग की है।

पुलिस ने बताया कि घटना दो गुटों के बीच हुई। अब्बास, उफीजा और अदनान एक तरफ थे तथा दूसरी तरफ आलोक, मोंटी और नितेश थे। मारपीट के दौरान अदनान और उसके दोस्तों में आलोक और नितेश को बुरी तरह घायल कर दिया। इसके बाद दोनों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहाँ नितेश की मौत हो गई।

दिल्ली पुलिस का कहना है कि फरार आरोपितों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने मामले में किसी भी तरह के सांप्रदायिक एंगल होने से इनकार किया है। पुलिस का कहना है कि CCTV के फुटेज देखकर पता चलता है कि झगड़े की शुरुआत नितेश और आलोक ने की थी।

नितेश के परिजन शव को बीच सड़क पर रखकर शासन से इंसाफ की माँग कर रहे हैं। वहीं, लोग भी सड़कों पर उतरकर सड़क को जाम कर दिया है और आरोपितों के खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा देने की माँग की है। इलाके के हालात को देखते हुए रैपिड ऐक्शन फोर्स (RAF) को तैनात कर दिया गया है।

नितेश के परिजनों का कहना है कि उनका बेटा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और बजरंग दल (Bajarang Dal) से जुड़ा हुआ था और हिंदुत्व के मसले को लेकर वह खुलकर अपनी राय जाहिर करता था। इसके कारण वह कई लोगों के निशाने पर था। इसीलिए झगड़े की आड़ में उसकी हत्या कर दी गई।

नितेश की ताई का कहना है कि अदनान अपने साथियों के साथ बाइक पर सवार होकर नितेश के पीछे आया और इस दौरान उन लोगों को ने नितेश को माँ-बहन की गाली दी। इसके बाद नितेश ने उन्हें रोक पूछा कि क्यों गाली दे रहे हो, इसके बाद तीनों ने नितेश और उसके साथियों पर हमला कर दिया।

नितेश की ताई का कहना है, “नितेश ने उनकी गाली पर एतराज जताया, तब तीनों ने उसे पीट-पीटकर मार दिया। उन लोगों ने गर्दन पकड़ कर नीचे गिरा दिया, उसके बाद उसे छोड़ा ही नहीं। हम चौधरी होने का दर्द भोग रहे हैं। अगर ये बात उनकी कम्युनिटी (मुस्लिमों के साथ) के साथ हो जाती तो हमें पुलिस कब का उठा लेती।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -