Thursday, April 18, 2024
Homeदेश-समाजदीपक के पास से मिले केवल 250 रुपए, इसलिए फैज और फराज ने सोए...

दीपक के पास से मिले केवल 250 रुपए, इसलिए फैज और फराज ने सोए में ही गला रेता: दिल्ली की घटना

पुलिस के अनुसार आरोपितों ने लूटपाट के इरादे से हत्या की वारदात को अंजाम दिया। आरोपितों को लगा था कि दीपक के पास पाँच हजार रुपए होंगे। लेकिन उन्हें केवल 250 रुपए ही मिले।

दिल्ली (Delhi) के जगतपुरी इलाके से हत्या (Murder) की घटना प्रकाश में आई है। मृतक की प​हचान 38 वर्षीय बस कंडक्टर दीपक के तौर पर हुई है। बस के भीतर ही उसकी हत्या कर दी गई। इस मामले में पुलिस ने फैज रहमान और मोहम्मद फराज को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट के अनुसार दोनों आरोपित लूटपाट के इरादे से बस में घुसे थे। उस समय दीपक नींद में था। उसके पास से केवल 250 रुपए ही मिलने पर दोनों ने गुस्से में आकर उसका गला रेत दिया।

घटना बुधवार (19 जनवरी 2022) की रात की है। बताया जाता है कि मृतक दीपक बीते 10 साल से वजीराबाद के प्रवीण नाम के व्यक्ति की बस में कंडक्टर के तौर पर काम कर रहा था। वह रात में बस में ही सो जाता था। हमेशा की ही तरह जगतपुरी में यमुना बायोडायवर्सिटी पार्क के पास रात में दीपक बस खड़ी कर सो रहा था। यहाँ पर अन्य बसें भी पार्क की जाती हैं।

गुरुवार की सुबह करीब 11 बजे जब बस ड्राइवर कांति आया तो बस का दरवाजा खुला हुआ था। लेकिन बस के अंदर से कोई आवाज नहीं आ रही थी। कांति बस के भीतर गया तो देखा कि दीपक अंदर खून से लथपथ औंधे मुँह मृत पड़ा था। बस के अंदर खून फैला हुआ था। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुँची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

लूटपाट के इरादे से की गई हत्या

बस कंडक्टर दीपक की हत्या की जाँच के क्रम में पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खँगाला तो हत्यारों का पता चल गया। इस घटना को लेकर पुलिस ने दो आऱोपितों को गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान फैज रहमान और मोहम्मद फराज के तौर पर हुई है। पुलिस ने कहा कि आरोपित नशे के आदी हैं। उन्होंने गला रेतकर दीपक की हत्या की। पुलिस के अनुसार आरोपितों ने लूटपाट के इरादे से हत्या की वारदात को अंजाम दिया। आरोपितों को लगा था कि दीपक के पास पाँच हजार रुपए होंगे। लेकिन उन्हें केवल 250 रुपए ही मिले। इससे नाराज हो दोनों ने उसकी हत्या कर दी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हलाल-हराम के जाल में फँसा कनाडा, इस्लामी बैंकिंग पर कर रहा विचार: RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने भारत में लागू करने की...

कनाडा अब हलाल अर्थव्यवस्था के चक्कर में फँस गया है। इसके लिए वह देश में अन्य संभावनाओं पर विचार कर रहा है।

त्रिपुरा में PM मोदी ने कॉन्ग्रेस-कम्युनिस्टों को एक साथ घेरा: कहा- एक चलाती थी ‘लूट ईस्ट पॉलिसी’ दूसरे ने बना रखा था ‘लूट का...

त्रिपुरा में पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस सरकार उत्तर पूर्व के लिए लूट ईस्ट पालिसी चलाती थी, मोदी सरकार ने इस पर ताले लगा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe