Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजकार-चोर शाहरूख़ चला रहा था ईद पर चोरी की होंडा-सिटी, भड़के नमाज़ियों ने की...

कार-चोर शाहरूख़ चला रहा था ईद पर चोरी की होंडा-सिटी, भड़के नमाज़ियों ने की थी तोड़फोड़

लोग इस बात से नाराज़ और निराश हैं कि तोड़-फोड़ और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने के मामले में कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई। जिसका सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें नमाज़ियों द्वारा सार्वजनिक वाहन को क्षति पहुँचाते हुए साफ देखा जा सकता है।

पूर्वी दिल्ली में, ईद के अवसर पर, एक तेज़ रफ़्तार से कार गुज़रने के बाद भड़के नमाजियों ने अपना आक्रोश व्यक्त करते हुए डीटीसी की बस सहित कई सार्वजनिक संपत्ति को भारी क्षति पहुँचाई थी। इस हादसे में 17 नमाज़ियों के घायल होने की अफ़वाह भी ऊड़ाई गई थी, जो कि पूरी तरह से झूठी थी। घटना के बाद से ही पुलिस कार चालक की तलाश में जुट गई थी। दरअसल, उस कार चालक की पहचान शाहरुख़ के रूप में अब उजागर हो गई है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया के राज शेखर झा के अनुसार उसे गिरफ़्तार भी कर लिया गया है।

शाहरुख एक ऑटो-लिफ्टर अर्थात एक कार चोर है जो एक चोरी की हुई होंडा सिटी से भाग रहा था। पुलिस द्वारा ऑपइंडिया को बताया गया कि वह (शाहरुख़) बेहद हड़बड़ी में कार चला रहा था। मीडिया में आई अन्य ख़बरों के विपरीत, पुलिस ने यह ख़ुलासा किया कि उस हादसे में कोई भी घायल नहीं हुआ था।

हालाँकि, अभी तक किसी भी उपद्रवी को गिरफ़्तार नहीं किया गया है। ऑपइंडिया ने सुबह जब डीसीपी मेघना यादव से बात की, तो उस समय तक इस मामले को लेकर कोई FIR दर्ज नहीं की गई थी। मुख्य रूप से पुलिस शाहरुख को गिरफ़्तार करना चाहती थी। अब जब इस पर ध्यान दिया गया है, तो ऐसी उम्मीद है कि उपद्रवियों के ख़िलाफ़ भी कार्रवाई की जाएगी।

लोग इस बात से नाराज़ और निराश हैं कि तोड़-फोड़ और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने के मामले में कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई। जिसका सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें नमाज़ियों द्वारा सार्वजनिक वाहन को क्षति पहुँचाते हुए साफ देखा जा सकता है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe