Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजलूट का 80% रिकवर, ₹9371 करोड़ बैंकों-केंद्र को ट्रांसफर: भगोड़े विजय माल्या, नीरव मोदी...

लूट का 80% रिकवर, ₹9371 करोड़ बैंकों-केंद्र को ट्रांसफर: भगोड़े विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर सख्ती का नतीजा

ईडी के मुताबिक इन तीनों की करीब 18000 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई है, जिसमें से करीब 9371 करोड़ रुपए के एसेट्स बैंकों और केंद्र सरकार को ट्रांसफर कर दिए गए हैं।

सरकारी बैंकों को हजारों करोड़ का चूना लगाकर देश छोड़ भागे विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर सख्ती का नतीजा दिखने लगा है। न केवल इनको वापस लाने के प्रयास जारी हैं, बल्कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) इनकी जब्त संपत्ति का एक हिस्सा सरकारी बैंकों और केंद्र को ट्रांसफर भी कर चुकी है।

ईडी ने बताया है कि इनकी 18,170.02 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। यह इनके द्वारा की गई लूट का करीब 80 फीसदी हिस्सा है। जब्त की गई संपत्तियों में से 9,371.17 करोड़ रुपए के एसेट्स बैंकों और केंद्र सरकार को ईडी ने ट्रांसफर भी कर दिए हैं।

प्रवर्तन निदेशालाय ने कहा है, “प्रोटेक्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) कानून के तहत एजेंसी ने विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के मामले में 18,170.02 करोड़ रुपए की संपत्ति को जब्त किया है। यह राशि बैंकों को हुए कुल नुकसान का लगभग 80.45 फीसदी है। प्रवर्तन निदेशालय ने 9,371.17 करोड़ रुपए की कुर्क/जब्त की संपत्ति पीएसबी और केंद्र सरकार को ट्रांसफर भी कर दिया है।”

माल्या, मोदी और चोकसी ने अपनी कंपनियों के जरिए पैसों की हेराफेरी कर बैंकों को 22,585.83 करोड़ रुपए का नुकसान पहुँचाया था। रिपोर्ट के मुताबिक, बंद हो चुकी एयरलाइंस किंगफिशर के मालिक विजय माल्या बैंकों के लोन डिफाल्टर के मामले में ईडी की जाँच का सामना कर रहे हैं। इस मामले में ई़डी और सीबीआई मामले की जाँच कर ही रही थीं कि माल्या 2 मार्च, 2016 को विदेश भाग गए। उसी दिन बैंकों ने उनके खिलाफ कर्ज की वसूली के लिए कोर्ट का रुख भी किया था। इसके बाद केंद्र सरकार ने जनवरी 2019 में माल्या को आर्थिक अपराधी अधिनियम के तहत भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर दिया था। माल्या फिलहाल माल्या इंग्लैंड में है।

वहीं पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने के बाद हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी और नीरव मोदी 2018 में देश छोड़कर फरार हो गए थे। नीरव मोदी को 19 मार्च 2019 को लंदन में गिरफ्तार किया गया था। मेहुल चोकसी बंद हो चुकी फेमस दिग्गज गीतांजलि समूह का मालिक था। वह फिलहाल डोमिनिका में बंद है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe