Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजदो मंदिरों में तोड़फोड़, शिवलिंग उठाकर नाले के पास फेंका, असम पुलिस ने कहा-...

दो मंदिरों में तोड़फोड़, शिवलिंग उठाकर नाले के पास फेंका, असम पुलिस ने कहा- जल्द ही आरोपित होंगे सलाखों के पीछे

"हमारे धर्म के लोगों का काम नहीं हो सकता है जरूर इसमें धर्म विशेष के कुछ लोग शामिल होंगे। आरोपितों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।"

असम में गुवाहाटी के भेटापाड़ा इलाके में कुछ असामाजिक तत्वों ने सड़क किनारे स्थित दो हिन्दू मंदिरों में तोड़फोड़ की है। इसे लेकर स्थानीय लोग भड़के हुए हैं। गुवाहाटी प्लस की रिपोर्ट के अनुसार, बताया जा रहा है कि मंगलवार (24 मई, 2022) की रात को शिव मंदिर में कई लोग घुसे और शिव की प्रतिमा के साथ ही शिवलिंग को उठाकर फेंक दिया। वहीं दूसरे मंदिर में भी गेट के पास लगी मूर्ति को नुकसान पहुँचाया गया है।

वहीं मामले का संज्ञान लेते हुए गुवाहाटी पुलिस के डीसीपी सुधाकर सिंह ने कहा है कि हमने मामले में जाँच शुरू कर दी है और आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

रिपोर्ट के अनुसार, एक प्रत्यक्षदर्शी ने गुवाहाटी प्लस को बताया कि वे उपद्रवी लोग भेटापाड़ा में शिव प्रतिमा को नुकसान पहुँचाने और शिवलिंग को नाले के पास में फेंकने के बाद एक दूसरे मंदिर में भगवान गणेश की प्रतिमा को भी उखाड़कर फेंकने की कोशिश की। हालाँकि, वशिष्ठ थाना के अंतर्गत आने वाले इस मंदिर में ग्रिल लगे होने के कारण जब तोड़फोड़ में कामयाबी नहीं मिली तो ग्रिल के बाहर लगे एक प्रतिमा को नुकसान पहुँचाया।

वहीं एक दूसरे स्थानीय व्यक्ति ने घटना के बारे में बात करते हुए बताया, “कुछ अराजक तत्व मंदिर में घुसे और हमारे शिवलिंग और भगवान शिव की प्रतिमा को नाले में फेंक दिया। यह हमारे लिए शर्म की बात है।”

रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में कुछ स्थानीय लोगों का यह कहना है कि हमारे धर्म के लोगों का काम नहीं हो सकता है जरूर इसमें धर्म विशेष के कुछ लोग शामिल होंगे। आरोपितों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

कहा जा रहा है लोगों को दोनों मंदिरों में तोड़फोड़ के बारे में सुबह जब पता चला तो उन्होंने बशिष्ट और हटिंगटन पुलिस स्टेशन में फोन कर सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं लोगों ने शिवलिंग और मूर्तियों को वापस मंदिर में रखा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -