Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजसोशल मीडिया पर महिला IAS और IPS की भिड़ंत, बोलीं डी रूपा - पुरुष...

सोशल मीडिया पर महिला IAS और IPS की भिड़ंत, बोलीं डी रूपा – पुरुष अधिकारियों को प्राइवेट तस्वीरें भेजती हैं रोहिणी

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने इस मुद्दे को व्यक्तिगत बताते हुए इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। रूपा ने रोहिणी की 7 तस्वीरें अपने फेसबुक हैंडल से जारी की।

कर्नाटक के अधिकारियों के बीच एक मामले को लेकर हड़कंप मचा हुआ है। असल में IPS अधिकारी रूपा दिवाकर मौदगिल ने IAS अधिकारी रोहिणी सिंदूरी की कुछ तस्वीरें जारी करते हुए आरोप लगाया है कि उन्होंने 3 पुरुष IAS अधिकारियों को ये तस्वीरें भेजी हैं। साथ ही उन्होंने IAS अधिकारी पर कई आरोप भी लगाए। वहीं रोहिणी का कहना है कि रूपा उन्हें बदनाम करने के लिए अभियान चला रही हैं और झूठे आरोप लगा रही हैं, जिनका कोई आधार नहीं है।

IAS अधिकारी रोहिणी सिंदूरी ने कहा कि वो IPS अधिकारी डी रूपा के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए अन्य प्रकार की कार्रवाई भी करेंगी। उन पर दुर्व्यवहार और आपराधिक धाराओं में FIR दर्ज कराने की बात भी कही गई है। रोहिणी का कहना है कि रूपा ने सोशल मीडिया और उनके व्हाट्सएप्प स्टेटस से तस्वीरें लेकर उन्हें बदनाम करने की साजिश रची। उन्होंने चुनौती दी कि वो उन पुरुष अधिकारियों के नाम सार्वजानिक करें, जिन्हें वो ये तस्वीरें भेजे जाने की बातें कह रही हैं।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने इस मुद्दे को व्यक्तिगत बताते हुए इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। रूपा ने रोहिणी की 7 तस्वीरें अपने फेसबुक हैंडल से जारी कीं और कहा कि 2021-22 में सिंदूरी ने इन्हें IAS अधिकारियों के साथ साझा किया था। उन्होंने पूछा कि तीन-तीन अधिकारियों को ये तस्वीरें भेजे जाने का क्या मतलब है? साथ ही कहा कि इस कारण ये मामला अब व्यक्तिगत नहीं रह गया है।

रूपा ने नियमों का हवाला देते हुए कहा कि इस तरह से आपत्तिजनक तस्वीरें शेयर करना गलत है। उन्होंने कहा कि बिना कोई सहानुभूति दिखाए रोहिणी सिंदूरी के खिलाफ जाँच की जानी चाहिए। उन्होंने ये आरोप भी लगाया कि मैसूर डीसी हेरिटेज बिल्डिंग ‘सन्निधि’ में वक स्विमिंग पूल बनाने बनवाने को लेकर उनके खिलाफ जाँच शुरू करने में देरी हुई। उन्होंने कहा कि शुरुआती जाँच में गड़बड़ियाँ पाए जाने के बावजूद उन पर विभागीय कार्रवाई नहीं हुई।

19 आरोपों में एक यह भी है कि IAS अधिकारी रोहिणी सिंदूरी ने लैंड रिकॉर्ड और सर्वे डिपार्टमेंट से सूचनाएँ लेकर रेस्ट एस्टेट के कारोबार में लगे अपने परिवार वालों की मदद की। साथ ही ज़्यादा बिल दिखाने के मामले में उनके खिलाफ लोकायुक्त शिकायत भी है। केआर नगर के जेडीएस विधायक एसआर महेश की रोहिणी के साथ झड़प हुई थी और वो विधानसभा में मामले को उठाते रहे हैं। उन्होंने सिंदूरी के खिलाफ कुछ दस्तावेज भी राज्य सरकार को सौंपे जाने की बात बताई थी।

IPS अधिकारी रूपा दिवाकर मौदगिल का कहना है कि साथी अधिकारियों के साथ भी रोहिणी सिंदूरी की कई बार झड़प हो चुकी है। मैसूर सिटी कॉर्पोरेशन कमिश्नर शिल्पा नाग के साथ उनकी झड़प हुई थी। शिल्पा ने रोहिणी पर अपमान करने के आरोप लगाए थे, जिसके बाद दोनों का ट्रांसफर कर दिया गया था। चामराजनगर अस्पताल में कोरोना महामारी के दौरान 24 लोगों की मौत को भी उन्होंने रूपा से जोड़ते हुए पर्याप्त ऑक्सीजन ट्रांसफर न किए जाने का आरोप लगाया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बकरों के कटने से दिक्कत नहीं, दिवाली पर ‘राम-सीता बचाने नहीं आएँगे’ कह रही थी पत्रकार तनुश्री पांडे: वायर-प्रिंट में कर चुकी हैं काम,...

तनुश्री पांडे ने लिखा था, "राम-सीता तुम्हें प्रदूषण से बचाने के लिए नहीं आएँगे। अगली बार साफ़-स्वच्छ दिवाली मनाइए।" बकरीद पर बदल गए सुर।

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -