Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजदक्षिण कश्मीर में 5 आतंकी ढेर, 4 जवान घायल

दक्षिण कश्मीर में 5 आतंकी ढेर, 4 जवान घायल

सेना द्वारा किए गए ऑपरेशन के बाद इलाक़े में तनाव बना हुआ है, जिसको देखते हुए कुलगाम में मुठभेड़ की शुरुआत से ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी।

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम ज़िले में सुरक्षा बलों को बड़ी क़ामयाबी मिली है। मुठभेड़ में सेना के जवानों ने 5 आतंकियों को मार गिराया। मारे गए आतंकियों के पास से सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया है।

ख़बर की मानें तो सुबह 5 बजे के आसपास आतंकियों के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया गया। 6 घंटे बीतने के बाद सेना ने यहाँ के दो घरों को उड़ा दिया, जिसमें मकान के अंदर छिपे हुए 5 आतंकी मौके पर ही ढेर हो गए। सुरक्षा बलों ने सर्च ऑपरेशन के बाद इसकी पुष्टी करते हुए सभी आतंकियों के शव के साथ भारी मात्रा में गोला-बारूद और अन्य सामान बरामद किया। बताया जा रहा है कि मारे गए आतंकियों में एक मोस्ट वॉन्टेड कमांडर भी शामिल है।

ऑपरेशन में ख़लल डालने के लिए की गई पत्थरबाज़ी

आतंकियों पर की गई कार्रवाई के बाद इलाक़े में भारी हिंसक प्रदर्शन हुए। बताया जा रहा है कि ऑपरेशन के दौरान कुछ उपद्रवियों ने ख़लल डालने के लिए पत्थरबाज़ी भी की। जवाब में सीआरपीएफ के जवानों ने उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए आँसू गैस के गोले दागे। भारी पथराव के चलते 4 सीआरपीएफ जवानों के गंभीर रूप से घायल होने की बात भी सामने आई है।

बंद की गई इंटरनेट सेवा

सेना द्वारा किए गए ऑपरेशन के बाद इलाक़े में तनाव बना हुआ है, जिसको देखते हुए कुलगाम में मुठभेड़ की शुरुआत से ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी। इसके अलावा बनिहाल से बारामुला के बीच चलने वाली रेल सर्विसेज़ को भी बंद करने का आदेश दिया गया है। बताया जा रहा है कि हिंसा के हालात को देखते हुए सीआरपीएफ और पुलिस की अतिरिक्त टीमों को भी तैनात किया गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe