Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाज'पाकिस्तान कुछ नहीं कर सकता': हिज्बुल आतंकी जावेद मट्टू और मुदस्सिर हुसैन के घरों...

‘पाकिस्तान कुछ नहीं कर सकता’: हिज्बुल आतंकी जावेद मट्टू और मुदस्सिर हुसैन के घरों पर लहराया तिरंगा, Video वायरल

मैं दिल से तिरंगा फहरा रहा हूँ, मेरे ऊपर किसी तरह का दबाव नहीं है। सारे जहां से अच्छा, हिंदोस्तां हमारा, हम बुलबुले हैं इसके, ये गुलिस्तां हमारा। यहाँ विकास हो रहा है। मैं पहली बार 14 अगस्त को अपनी दुकान पर बैठा हूँ, लेकिन पहले 2-3 दिनों तक सब कुछ बंद रहता था।"

देश के 77वें स्वतंत्रता दिवस से पहले एक वीडियो वायरल हुआ है। इसमें हिज्बुल मुजाहिद्दीन के आतंकी जावेद मट्टू का भाई रईस अपने घर की बालकनी से तिरंगा लहराते दिख रहा है। रईस ने जम्मू-कश्मीर के सोपोर के अपने घर पर तिरंगा फहराया। इसी तरह किश्तवाड़ में एक अन्य हिज्बुल आतंकी मुदस्सिर हुसैन के परिजन भी ‘हर घर तिरंगा’ अभियान का हिस्सा बने हैं।

जावेद मट्टू हिज्बुल का सक्रिय आतंकवादी है। वह फिलहाल पाकिस्तान में है। उसके भाई रईस मट्टू ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया है कि उसने अपने दिल से दिल से झंडा लहराया। उसने ऐसा अपनी मर्जी से किया है। उस पर इसके लिए किसी तरह का दबाव नहीं था। रईस ने कहा कि मैं पूरे देश को संदेश देता हूं कि वे कश्मीर घाटी में आएँ।

रईस मट्टू ने कहा;

“मैं दिल से तिरंगा फहरा रहा हूँ, मेरे ऊपर किसी तरह का दबाव नहीं है। सारे जहां से अच्छा, हिंदोस्तां हमारा, हम बुलबुले हैं इसके, ये गुलिस्तां हमारा। यहाँ विकास हो रहा है। मैं पहली बार 14 अगस्त को अपनी दुकान पर बैठा हूँ, लेकिन पहले 2-3 दिनों तक सब कुछ बंद रहता था। पहले सत्ता में रहने वाली पार्टियाँ सिर्फ खेल खेलतीं थी। मेरा भाई 2009 में उनमें से एक (आतंकी) बन गया। हमें नहीं पता उसके बाद से कि वो कैसा है, कहाँ है। अगर वो जिंदा है, मैं उससे अपील करता हूँ कि वह वापस आ जाए। अब हालात बदल चुके हैं। पाकिस्तान कुछ नहीं कर सकता है। हम हिंदुस्तानी थे, हैं और रहेंगे।”

आतंकी मुदस्सिर हुसैन के परिवार ने लगाई गुहार

हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी मुदस्सिर हुसैन के परिवार ने किश्तवाड़ में अपने घर पर तिरंगा फहराया। हुसैन के पिता तारिक ने कहा, “हमने अपने घर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया और चाहते हैं कि हर घर में तिरंगा फहराया जाए।” हुसैन की अम्मी ने कहा, “हमने उसका पता जानने की पूरी कोशिश की, पर असफल रहे। सेना को हमारे लिए उसे ढूँढ़ना चाहिए, क्योंकि हम चाहते हैं कि वह वापस आ जाए।” हुसैन घाटी के मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों में से एक है और उस पर 20 लाख का इनाम है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -