Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजटीपू सुल्तान तान कर खड़ा सीना, छत्रपति शिवाजी महाराज जूतों के पास नीचे बैठे:...

टीपू सुल्तान तान कर खड़ा सीना, छत्रपति शिवाजी महाराज जूतों के पास नीचे बैठे: सलमान ने डाली विवादित Video, महाराष्ट्र में केस दर्ज

सलमान ने वीडियो में महाराष्ट्र के गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज और मराठा समुदाय को टीपू सुल्तान के सामने झुकते हुए और उससे हाथ जोड़ते हुए अनुरोध करते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में टीपू सुल्तान की तारीफ करते हुए आरोपित ने इस्लामी तानाशाह को 'भारत की शान' कहा।

महाराष्ट्र पुलिस ने इंस्टाग्राम पर छत्रपति शिवाजी महाराज की गलत फोटो पोस्ट कर हिंदुओं और मराठा समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए सलमान (पूरा नाम नामालूम) के खिलाफ केस दर्ज किया है। दरअसल आरोपित ने गुरुवार (19 अक्टूबर, 2023) को एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें कट्टर इस्लामिक टीपू सुल्तान के सामने छत्रपति शिवाजी महाराज को हाथ जोड़े दिखाया गया है।

मामले का वीडियो और आरोपित पर की गई FIR की कॉपी ऑपइंडिया के हाथ लगी है। बताया जा रहा है कि ये वाकया महाराष्ट्र के सांगली जिले का है। सलमान की इस हरकत की सांगली के जत पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने 21 साल के प्रसाद सालुंखे की शिकायत के आधार पर 20 अक्टूबर को ये एफआईआर दर्ज की। सालुंखे ने अपनी शिकायत में कहा है कि उन्हें वीडियो के बारे में उनके एक चाचा ने जानकारी दी थी।

इसके बाद उन्होंने रील की जाँच की। इसे सलमान ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट salman_sheikh.792 आईडी पर पोस्ट किया था। इसमें आरोपित सलमान ने मालाबार और कोडागु के हिंदुओं का कत्लेआम करने वाले कट्टर इस्लामिक टीपू सुल्तान की जमकर तारीफ की है। ये वही सुल्तान है जिसने लाखों लोगों को मार डाला और उनका धर्म परिवर्तन कराया था।

ऑप इंडिया को मिली एफआईआर की कॉपी

आरोपित के इस वीडियो में महाराष्ट्र के गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज और मराठा समुदाय को टीपू सुल्तान के सामने झुकते हुए और उससे हाथ जोड़ते हुए अनुरोध करते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में टीपू सुल्तान की तारीफ करते हुए आरोपित ने इस्लामी तानाशाह को ‘भारत की शान’ कहा।

इसके बाद शिकायतकर्ता प्रसाद सालुंखे ने आरोपित का फोन नंबर ढूँढ कर उसे फोन किया। आरोपित की तरफ से कॉल का जवाब नहीं दिया गया। इसके बाद प्रसाद सालुंखे किसी तरह आरोपित का पता हासिल करने में कामयाब रहे।

उन्होंने अपने दोस्तों के साथ वहाँ जाकर यह पता लगाया कि आरोपित ने ऐसा वीडियो क्यों बनाया और पोस्ट किया। सालुंखे के सांगली की नदाफ लेन में आरोपित के घर पहुँचे तो उसके अब्बा ने उसके घर पर न होने की बात कही। इसके बाद शिकायतकर्ता सालुंखे ने वीडियो के स्क्रीनशॉट ले लिए और एफआईआर दर्ज कराने के लिए पुलिस स्टेशन पहुँच गए।

पुलिस ने इस घटना का संज्ञान लिया। इसके बाद आरोपित पर धारा 295ए (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य, किसी भी वर्ग के धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान करके उसकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का इरादा), 153ए (धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और आईपीसी 1860 की धारा 298 (जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से शब्दों आदि का उच्चारण करना) के तहत मामला दर्ज किया गया। पुलिस मामले की आगे जाँच कर रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Siddhi Somani
Siddhi Somani
Siddhi Somani is known for her satirical and factual hand in Economic, Social and Political writing. Having completed her post graduation in Journalism, she is pursuing her Masters in Politics. The author meanwhile is also exploring her hand in analytics and statistics. (Twitter- @sidis28)

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -