Saturday, September 25, 2021
Homeदेश-समाजपृथ्वीराज चौहान के किले के पास मजार बनवाने का दावा, सोशल मीडिया में दिल्ली...

पृथ्वीराज चौहान के किले के पास मजार बनवाने का दावा, सोशल मीडिया में दिल्ली पुलिस की भूमिका को लेकर भी उबाल – वीडियो वायरल

सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता ने कहा, "दिल्ली पुलिस सड़कों पर नमाज अदा करवाती है और विरोध करने वाले हिंदुओं से अभद्रता करती है। दिल्ली की सड़कों में ऐसी कई अवैध मजारें और अवैध मस्जिदें पुलिस के संरक्षण में बनी हुई हैं।"

जहाँ एक तरफ दिल्ली की सड़कों पर अतिक्रमण कर के मजारों से लोग परेशान हैं, वहीं दूसरी तरफ आरोप लगे हैं कि अब पृथ्वीराज चौहान के ‘किला राय पिथौरा’ के पास भी मुस्लिम लोग एक मजार बनवा रहे हैं। साथ ही दिल्ली पुलिस पर उन्हें संरक्षण देने का आरोप लगाया गया है। इसके लिए एक वीडियो भी शेयर किया जा रहा है। वीडियो में लोग आरोप लगा रहे हैं कि बिना वर्दी के पुलिस वाले वहाँ खड़े होकर निर्माण कार्य करा रहे हैं।

जुलाई 2020 में ‘पांचजन्य’ में एक खबर आई थी कि ‘संजय वन’ में कई जगह हरी चादर डाल कर मजार बनवा दिए गए हैं। लॉकडाउन के दौरान वन के भीतर कई मजार बनवाए जाने के आरोप इस लेख में लगे हैं। 26 मई, 2020 को महरौली थाने में इस बाबत एक शिकायत भी दर्ज हुई थी। वन के प्रभारी का कहना था कि कुछ पत्थरों को हरे रंग से रंगा गया है। स्थानीय लोगों का कहना था कि वन पर वक़्फ़ बोर्ड की नजर है।

वहीं वायरल वीडियो के आधार पर लोगों ने आरोप लगाया कि उन्हें अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। वहाँ खड़े लोगों ने जिद की कि वो देखना चाहते हैं कि आखिर ऐसा क्या हो रहा है वहाँ जो उन्हें जाने से रोका जा रहा है। जब वो लोग आगे गए तो वहाँ एक मजार के निर्माण का कार्य चल रहा था। वहाँ उपस्थित लोगों ने खुद को दिल्ली पुलिस का बताया। वीडियो में पेड़ के चारों तरफ कटाई कर के मसाला बना कर कोई संरचना बनवाए जाने की बात सामने आई है।

वायरल वीडियो के अनुसार, ये सब देख कर स्थानीय लोग आक्रोशित भी हो गए। बताया जा रहा है कि ‘संजय वन’ के एकदम बीचोबीच ये चीजें चल रही हैं। लोगों ने इसे अवैध कब्ज़ा बताते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस के सहयोग से ये सब हो रहा है। ये वो इलाका है, जहाँ लोग पर्यटन के लिए घूमने आते हैं। ‘पांचजन्य’ के संपादक हितेश शंकर ने कहा, “दिल्ली में आजादपुर फ्लाईओवर मजार को बचाते आदर्श नगर SHO के बाद ये लगातार दूसरा मामला देखने में आया जब दिल्ली पुलिस मजार माफिया के साथ खड़ी दिखाई दे रही है।”

राय पिथौरा किले के पास मजार बनाने के आरोप

इस घटना पर टिप्पणी करते हुए वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत पटेल उमराव ने कहा, “चाहे हसनपुर डिपो के सामने बनी अवैध मजार हो या आजादपुर फ्लाईओवर पर बनी अवैध मजार, दिल्ली पुलिस वहाँ खड़े होकर सड़कों पर नमाज अदा करवाती है और विरोध करने वाले हिंदुओं से अभद्रता करती है। दिल्ली की सड़कों में ऐसी कई अवैध मजारें और अवैध मस्जिदें पुलिस के संरक्षण में बनी हुई हैं।” कई लोगों ने उनके ट्वीट की रिप्लाई में दिल्ली पुलिस से आक्रोश जताया।

हाल ही में इसी तरह का एक और मामला सामने आया था। ये घटना दिल्ली के आज़ादपुर की है। बड़ी सब्जी मंडी होने की वजह से ये इलाका जाना जाता है। यहाँ के एक फ्लाईओवर पर अवैध मजार बना दिया गया है। जहाँ से फ्लाईओवर शुरू होता है, वहीं पर एक मजार जैसी संरचना बना दी गई है। वहाँ के प्रबंधक का कहना है कि ये एक ‘दरगाह’ है। उसने अतिक्रमण के आरोपों को झूठा करार देते हुए कहा कि ये बहुत पुराना है और उसके दादा भी यहाँ बैठते थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कहीं स्तनपान करते शिशु को छीन कर 2 टुकड़े किए, कहीं बार-बार रेप के बाद मरी माँ की लाश पर खेल रहा था बच्चा’:...

एक शिशु अपनी माता का स्तनपान कर रहा था। मोपला मुस्लिमों ने उस बच्चे को उसकी माता की छाती से छीन कर उसके दो टुकड़े कर दिए।

‘तुम चोटी-तिलक-जनेऊ रखते हो, मंदिर जाते हो, शरीयत में ये नहीं चलेगा’: कुएँ में उतर मोपला ने किया अधमरे हिन्दुओं का नरसंहार

केरल में जिन हिन्दुओं का नरसंहार हुआ, उनमें अधिकतर पिछड़े वर्ग के लोग थे। ये जमींदारों के खिलाफ था, तो कितने मुस्लिम जमींदारों की हत्या हुई?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,198FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe