Wednesday, September 28, 2022
Homeदेश-समाजजावेद चिकना, साहेबजान, सैफ गिरफ्तार: दिल्ली में दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश, महिला की शादी...

जावेद चिकना, साहेबजान, सैफ गिरफ्तार: दिल्ली में दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश, महिला की शादी इससे या उससे का मामला

चिकना और साहेबजान की मृतकों से एक महिला की शादी को लेकर दुश्मनी हुई थी, जिसमें वो किसी और पक्ष का समर्थन कर रहे थे। इनसे 2 ऑटोमेटिक पिस्टल और एक देशी रिवॉल्वर भी जब्त किया गया है।

दिल्ली में हुए एक दोहरे हत्याकांड की परत अब जाकर खुली है, जब पुलिस ने 3 आरोपितों को गिरफ्तार कर के उनसे पूछताछ की। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली जिले की पुलिस ने जावेद चिकना, साहेबजान और जहाँ सैफ अली को गिरफ्तार किया। 22 वर्षीय जहाँ सैफ अली दिल्ली के न्यू मुस्तफाबाद का रहने वाला है। तीनों ने बताया है कि दोहरे हत्याकांड को अंजाम देकर वो अजमेर, मेरठ और रुड़की में छिपते फिर रहे थे।

ये घटना शनिवार (सितम्बर 12, 2020) की है, जब मूँगा नगर स्थित संजय चौक पर बन्दूक से फायरिंग की सूचना दयालपुर थाने की पुलिस को फोन से मिली। पुलिस घटनास्थल पर जब एक इमारत की पहली मंजिल पर स्थित एक फ्लैट में पहुँचे तो उन्होंने देखा कि जहाँ एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है, वहीं दूसरा गोली लगने से गंभीर रूप से घायल है। मृतक की पहचान मुस्तफाबाद के फ़ारूक़ अहमद के रूप में हुई थी।

इसके कुछ ही देर बाद नेहरू विहार की एक गली से फायरिंग की सूचना आई। जब पुलिस वहाँ पहुँची तो उसने पाया कि अब्दुल हमीद नामक व्यक्ति मृत पड़ा हुआ था। इन मामलों में दो एफआईआर दर्ज कर के पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। जाँच के दौरान पुलिस ने आसपास के लोगों के बयान दर्ज किए और सीसीटीवी फुटेजों को खँगाला। आरोपित जावेद चिकना और उसके एक साथी की पहचान होने के बाद पुलिस ने अपने मुखबिरों को मुस्तैद कर तलाश के लिए टीमें गठित की।

‘इंडिया टुडे’ की खबर के अनुसार, सितम्बर 19 को पुलिस को सूचना मिली कि तीनों आरोपित दिल्ली से किसी अनजान जगह पर छुपने जा रहे हैं। पुलिस को उनका कार नंबर भी मिल गया। पुलिस ने जाल बिछाया और तीनों आरोपित धरे गए। साथ ही उक्त कार को भी जब्त कर लिया गया। पूछताछ में तीनों आरोपितों ने दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने की बात कबूल की और व्यक्तिगत दुश्मनी को इसकी वजह बताया।

चिकना और साहेबजान की मृतकों से एक महिला की शादी को लेकर दुश्मनी हुई थी, जिसमें वो किसी और पक्ष का समर्थन कर रहे थे। साथ ही संपत्ति और वित्तीय विवाद भी थे, जिनके कारण तीनों ने इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया। फज्जी सहित अन्य आरोपितों ने इस मामले में उसकी मदद की। दो ऑटोमेटिक पिस्टल और एक देशी रिवॉल्वर को जब्त किया है। एक आरोपित अभी भी फरार है, जिसे गिरफ्तार करने के लिए तलाश जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPA के समय ही IB ने किया था आगाह, फिर भी PFI को बढ़ने दिया गया’: पूर्व मेजर जनरल का बड़ा खुलासा, कहा –...

PFI पर बैन का स्वागत करते हुए मेजर जनरल SP सिन्हा (रिटायर्ड) ने ऑपइंडिया को बताया कि ये संगठन भारतीय सेना के समांतर अपनी फ़ौज खड़ी कर रहा था।

‘सारे मुस्लिम युवकों को जेल में डाल दिया जाएगा, UAPA है काला कानून’: PFI बैन पर भड़के ओवैसी, लालू यादव और कॉन्ग्रेस MP

असदुद्दीन ओवैसी के लिए UAPA 'काला कानून' है। लालू यादव ने RSS को 'PFI सभी बदतर' कह दिया। कॉन्ग्रेसी कोडिकुन्नील सुरेश ने RSS को बैन करने की माँग की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,793FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe