Thursday, October 6, 2022
Homeदेश-समाजअब किशनगंज बॉर्डर पर नेपाल पुलिस ने भारतीयों पर की फायरिंग, एक की हालत...

अब किशनगंज बॉर्डर पर नेपाल पुलिस ने भारतीयों पर की फायरिंग, एक की हालत गंभीर

इससे पहले नेपाल पुलिस ने इसी साल 12 जून को बिहार में सीतामढ़ी स्थित लगने वाले बॉर्डर पर एक भारतीय नागरिक को गोली मार दी थी। नेपाली सैनिकों की ओर से की गई फायरिंग में उस वक्त तीन अन्य नागरिक घायल हो गए थे।

भारत-नेपाल के बीच चल रही टेंशन का असर अब भारतीय सीमावर्ती क्षेत्र के नागरिकों पर पड़ने लगा है। सीमा पर बिहार के किशनगंज में नेपाल पुलिस ने तीन भारतीय युवकों पर गोलीबारी कर दी, जिसमें एक युवक घायल हो गया है। घायल युवक की हालत बिगड़ने पर उसे पूर्णिया रेफर कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, 25 साल के जितेंद्र कुमार सिंह और उनके दो साथी अंकित कुमार सिंह और गुलशन कुमार सिंह शनिवार (जुलाई 18, 2020) की रात लगभग साढ़े सात बजे, अपने मवेशियों को ढूँढने के लिए भारत-नेपाल सीमा पर माफी टोला के पास गाँव के खेत में गए थे।

सीमा पर तैनात नेपाल पुलिस इन युवकों पर अचानक फायरिंग कर दी। जितेंद्र को कंधे में गोली लगी। ग्रामीणों ने घायल जितेंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र टेढ़ा गाछ लाए, लेकिन स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे पूर्णिया रेफर कर दिया है, जहाँ उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

किशनगंज के SP ने बताया कि नेपाल पुलिस की तरफ से गोलीबारी में एक भारतीय गंभीर रूप से घायल हो गया है। इस मामले की जाँच की जा रही है। वहीं इस घटना के बाद से सीमा पर SSB भी अलर्ट पर है। SP कुमार आशीष ने फोन पर ANI को बताया कि नेपाल पुलिस से इस मामले पर बात की गई है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

एसएसबी की 12वीं बटालियन के डिप्टी कमांडेंट बिरेन्द्र चौधरी ने इस घटना की पुष्टि की है। साथ ही उनका कहना है कि हालात पर नजर रखी जा रही है और नेपाल के अधिकारियों से भी बात की जा रही है। सीमा क्षेत्र में नेपाल पुलिस की इस हरकत के बाद लोगों में काफी गुस्सा भी है और सभी नेपाल पुलिस के ऊपर कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।

इससे पहले नेपाल पुलिस ने इसी साल 12 जून को बिहार में सीतामढ़ी स्थित लगने वाले बॉर्डर पर एक भारतीय नागरिक को गोली मार दी थी। नेपाली सैनिकों की ओर से की गई फायरिंग में उस वक्त तीन अन्य नागरिक घायल हो गए थे। उस समय नेपाली पुलिस बल की गोली से मृत विकेश यादव के शव को इंडो-बॉर्डर पर रखकर ग्रामीणों ने विरोध-प्रदर्शन किया था।

गौरतलब है कि लॉकडाउन की शुरुआत से ही भारत-नेपाल सीमा पूरी तरह से सील है। लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बंद है। नेपाल सरकार ने भारत-नेपाल सीमा पर अतिरिक्त सुरक्षा बल की तैनाती कर रखी है। खासकर सीमा के मुख्य रास्तों के अलावा पगडंडियों पर भी सुरक्षा सख्त है। नेपाल में जहाँ नेपाली सशस्त्र बल ने कैम्प लगाकर सुरक्षा में जुटी हैं। वहीं, भारतीय सीमा में एसएसबी की मौजूदगी पहले से है और लगातार सीमा पर निगरानी की जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाल ठाकरे का बेटा सीएम शिंदे के साथ मंच पर, ‘गर्व से कहो हिंदू हैं’ के लगे नारे: दशहरा रैली में ‘उद्धव की गद्दारी’...

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बाल ठाकरे को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उद्धव ठाकरे ने कॉन्ग्रेस-एनसीपी के इशारों पर गद्दारी की।

PKMKB ट्वीट शेयर किया शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने: घेरने चली थीं शिंदे सरकार को, लोगों ने लिए मजे

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने अपने ट्विटर हैंडल पर पीकेएमकेबी (PKMKB) का स्क्रीनशॉट साझा किया। क्यों किया, लोग पूछ रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
226,493FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe